Mesh Rashi Ke Ishtdev

मेष राशि के इष्ट देव कौन है, मेष राशि के लिए रत्न, मेष राशि के दोष का उपाय, मेष राशि के लिए उपाय, Mesh Rashi Ke Isht Dev Kaun Hai, Mesh Rashi Ke Liye Ratna, Mesh Rashi Ke Dosh Ka Upaay, Mesh Rashi Ke Liye Upaay

मेष राशि के इष्ट देव कौन है, मेष राशि के लिए रत्न, मेष राशि के दोष का उपाय, मेष राशि के लिए उपाय, Mesh Rashi Ke Isht Dev Kaun Hai, Mesh Rashi Ke Liye Ratna, Mesh Rashi Ke Dosh Ka Upaay, Mesh Rashi Ke Liye Upaay

मेष राशि – परिचय

राशि चक्र की पहली राशि मेष का स्वामी मंगल है. मंगल ग्रह को 9 ग्रहों में सेनापति के पद से सम्‍मानित किया गया है. जो साहस, पराक्रम, निर्भीकता और शौर्य के प्रतीक हैं. मेष राशि में जन्में जातक अत्‍यंत क्रोधी स्‍वभाव के होते हैं. इससे प्रभावित जातक छोटी-छोटी बातों पर भी उत्‍तेजित हो जाते हैं. ये जिद्दी स्वभाव के भी होते हैं. ये लोग अपने स्वभाव के कारण खुद को परेशानी में भी डाल लेते हैं ऐसे में मेष राशि को जीवन में सुख व सफलता पाने के लिए अपने इष्टदेव की पूजा अर्चना करनी चाहिए तथा राशिनुसार रत्न धारण करना चाहिए, ऐसा करना उनके लिए फलदायक साबित होगा. यहां जानिए मेष राशि के इष्टदेव, राशि रत्न व उपाय के बारे में जानकारी विस्तार से-

मेष राशि के इष्ट देव कौन है?, Mesh Rashi Ke Isht Dev Kaun Hai?

कहा जाता है, ‘एक साधे सब सधे, सब साधे सब जाय’ यानी किसी एक चीज पर ध्यान लगाकर कोई काम किया जाए तो बाकी काम भी होते चले जाते हैं, लेकिन अगर सब पर एक साथ ध्यान लगाओगे तो कुछ भी नहीं हो पाएगा. यही बात सनातन धर्म में देवी देवताओं को लेकर भी लागू होती है. शास्त्रों के अनुसार हिंदुओं के तैंतीस कोटि देवी और देवता माने गए हैं, ऐसे में किसी एक देवी या देव को अपना इष्ट देव मानकर पूजा करने की बात कही गई है. जन्म कुंडली में जिस भाव में चंद्रमा होता है व्यक्ति की वही राशि होती है. राशि के अनुसार व्यक्ति के इष्ट देव का पता लगाया जा सकता है. जैसे हम बात कर रहे हैं मेष राशि कि तो मेष राशि का स्‍वामी ग्रह मंगल है. ऐसे में आप हनुमान जी या भगवान राम को अपना इष्टदेव मानकर पूजा कर सकते हैं. धार्मिक मान्यताओं के अनुसार इष्ट देव की पूजा करने से व्यक्ति को अच्छे और शुभ फल की प्राप्ति होती है और कुंडली के सारे ग्रह दोष भी समाप्त हो जाते हैं.
मेष राशि के स्वामी – मंगल ग्रह
मेष राशि के इष्ट देव – हनुमान जी और भगवान राम

मेष राशि के लिए रत्न, Mesh Rashi Ke Liye Ratna

मेष राशि के लिए रत्न, Mesh Rashi Ke Liye Ratna – ज्‍योतिष और रत्‍नशास्‍त्र का रिश्‍ता अटूट है. ज्‍योतिष विद्या में प्राकृतिक रूप से उपलब्‍ध रत्‍नों /पत्थरों को बहुत ही ज्यादा खास व महत्वपूर्ण माना गया है. ज्‍योतिष के अनुसार सभी 12 राशियों के लिए कोई न कोई एक खास रत्‍न अवश्य होता है जो उस राशि के स्‍वामी और उनकी प्रकृति के आधार पर तय किया जाता है. इन रत्‍नों को धारण कर व्यक्ति अशुभ ग्रहों के प्रभाव को कम कर सकता है व जीवन में सफलता पा सकता है. यहां जानिए मेष राशि के लोग कौन सा रत्न धारण करें, रत्न पहनने के लाभ आदि के बारे में-
मेष राशि के लोग कौन सा रत्न धारण करें- मेष राशि का स्वामी मंगल है. ऐसे में मेष राशि में जन्म लेने वालों को लाल मूंगा धारण करने की सलाह दी जाती है. मूंगा मंगल ग्रह का रत्न है इसलिए मेष राशि के जातक मंगल ग्रह को बल प्रदान करने के लिए मूंगा रत्न पहने यह रत्न आपके लिए शुभ है.
मूंगा किस हाथ में पहने, मूंगा किस उंगली मे धारण करें, मूंगा किस दिन पहनें – मेष राशि वालों के लिए लाल मूंगा शुभ है. इसे दायें हाथ की कनिष्का या तर्जनी उंगली में मंगलवार सुबह स्नान के बाद पहनने की सलाह दी जाती है.
मेष राशि के जातक कौन सा रत्न धारण न करें- मेष राशि के जातक हीरा धारण न करें.

मूंगा पहनने के लाभ व नुकसान
लाभ – मेष रा‍शि के जातकों को मूंगा रत्‍न धारण करने से फायदा होता है. यह रत्न साहस, गतिशीलता, पवित्रता और तेज-तर्रारता की शक्ति का प्रतीक है. लाल मूंगा मेष राशि के जातक को सक्रिय और आत्मविश्वासी रहने में सहायता करता है. इस रत्‍न के प्रभाव में दिमाग शांत रहता है. यह धन का भी प्रतिनिधित्व करता है और जीवन के सभी पहलुओं में समृद्धि को आकर्षित करने में सहायता कर सकता है. मूंगा धारण करने से मेष राशि वालों को शारीरिक-मानसिक बल, धन-वैभव, रिश्ते, दोस्त आदि कई सुख मिलते हैं.
नुकसान – ध्यान रहे कि कुंडली और अपनी राशि के अनुसार ही मूंगा रत्न धारण करें वरना इसके नुकसान भी हो सकते हैं. कुंडली के अनुसार मूंगा न पहनने दुर्घटना भी हो सकती है. इसका भार जीवनसाथी पर रहता है. इससे पारिवारिक कलह, कुटुम्ब से मनमुटाव और वाणी में दोष भी उत्‍पन्‍न हो सकता है. शनि और मंगल की युति कहीं भी हो तो मूंगा नहीं पहनना चाहिए.

मेष राशि के दोष का उपाय, मेष राशि के लिए उपाय

मेष राशि के दोष का उपाय, मेष राशि के लिए उपाय, Mesh Rashi Ke Dosh Ka Upaay, Mesh Rashi Ke Liye Upaay
मेष राशि के जातकों को अपने कष्ट दूर करने व जीवन में सफलता पाने के लिए निम्न उपाय करने चाहिए, यह उपाय करने से अवश्य ही आपकी सभी मनोकामना पूर्ण होगी.
1. मेष राशि के लोगों को प्रतिदिन अपने इष्ट देव हनुमान जी या राम जी की विधिवत पूजा अर्चना करनी चाहिए, ऐसा करने से भगवान का आशीर्वाद मिलेगा.
2. मेष राशि के जातकों को मंगलवार का व्रत करना चाहिए तथा गरीबों को खाना खिलाना चाहिए, यदि व्रत रखना संभव न हो सके तो हनुमान जी की पूजा अवश्य करें. भगवान की कृपा बरसेगी.
3. मेष राशि के लोग प्रत्येक मंगलवार को हनुमान जी के मंदिर में जाकर बूंदी का प्रसाद चढ़ाकर बांटे, शुभ रहेगा और इससे जीवन में आने वाली अकस्मात परेशानियां व कष्ट दूर हो जाएंगी.
4. दांपत्य जीवन में आ रहे तनाव को दूर करने के लिए मेष राशि के जातकों को शुक्रवार के दिन किसी कन्या को बुलाकर सफेद मिठाई खिलानी चाहिए. यह टोटका ग्यारह शुक्रवार तक लगातार करना चाहिए.
5. मेष राशि के लोग कोई भी जरूरी कार्य मंगलवार के दिन करें तो श्रेष्ठ फल प्राप्त होगा.
6. जीवन में तरक्की पाने के लिए मेष राशि के जातक लाल रंग के कपड़े पहनें. लेकिन यदि आपका स्वभाव गर्म है तो फिर लाल रंग के वस्त्रों को पहनने से परहेज करें, आपके लिए शुभ रहेगा. ध्यान रहे कि आप उपहार के रूप में न तो लाल कपड़े किसी को दें और न ही लाल रंग की वस्तुएं किसी से भेंट में लें.
7. पैतृक धन-संपत्ति एवं संचित धन का लाभ प्राप्त करने के लिए मेष राशि के जातक कमल के गट्टे की माला लाल वस्त्र में बांधकर अपने गले में धारण करें अथवा इसे तिजोरी में रख दें, लाभ मिलेगा.
8. यदि मेष राशि के जातकों के ऊपर कर्ज है तो उन्हें श्वेतार्क गणपति को चोला चढ़ाकर चांदी का वर्क चढ़ाकर पंचोपचार के साथ तिजोरी में रखना चाहिए. ऐसा करने से जल्द ही कर्ज से छुटकारा मिलेगा.

9. शिक्षा या कार्य क्षेत्र में कामयाबी हासिल करने के लिए मंगलवार के दिन हनुमान चालीसा या बजरंग बाण का पाठ करें.
10. मेष राशि के जातक किसी से कोई वस्‍तु मुफ्त में न लें. ऐसा करने से मां लक्ष्‍मी आप से अप्रसन्‍न हो सकती हैं और इससे आपको धन की हानि हो सकती है.
11. सुखी जीवन के लिए मेष राशि के जातक हाथी के दांत से बनी किसी भी वस्‍तु का प्रयोग न करें.
12. घर से जब भी बाहर निकलें, जेब में लाल रंग का रूमाल रखकर ही निकलें. दिन ढलने के बाद राशि स्‍वामी मंगल ग्रह की कृपा पाने के लिए बच्‍चों में गुड़ बांटें.
13. ग्रहों को शांत रखने के लिए मेष राशि के जातक बांए हाथ में चांदी का छल्‍ला धारण करे. इसके साथ ही साधु, संतों, मां और गुरुओं की सेवा करें.
14. मेष राशि के जातकों को मीठी वस्‍तुओं का व्‍यापार नहीं करना चाहिए.
15. मेष राशि के जातक आंगन में नीम का पेड़ लगाएं, इससे भगवान की कृपा होगी.
16. मेष राशि वालों का राशि स्‍वामी मंगल को माना जाता है जो कि स्‍वभाव से काफी उग्र होते हैं. इस वजह से मेष वालों को क्रोध काफी आता है. बेहतर होगा कि आप हर बात में धैर्य से काम लें.
17. राशि की उग्रता को कम करने के लिए मेष के जातकों को रात में सोते वक्‍त सिरहाने एक गिलास पानी रखकर सोना चाहिए. सुबह उस जल को किसी गमले में डाल दें.
18. मेष राशि वालों के लिए बेहतर होगा कि बहन, बुआ और बेटियों को अक्‍सर उपहार देते रहें. हर मंगलवार को मीठी रोटी गाय को खिलाएं.

मेष राशि के इष्ट देव कौन है, मेष राशि के लिए रत्न, मेष राशि के दोष का उपाय, मेष राशि के लिए उपाय, Mesh Rashi Ke Isht Dev Kaun Hai, Mesh Rashi Ke Liye Ratna, Mesh Rashi Ke Dosh Ka Upaay, Mesh Rashi Ke Liye Upaay