-Uttar Pradesh: 4 people die after drinking poisonous liquor in Prayagraj, many are in critical condition- उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से हाल ही में जहरीली शराब का मामला सामने आया था. जो अभी तक थमा नहीं था कि इसी बीच अब यूपी के प्रयागराज से जहरीली शराब का मामला सामने आया है. जहां देसी शराब पीने से 4 लोगों कि मौत हो गई और कई लोगों का अस्पताल में इलाज चल रहा है. उनकी हालत गंभीर बताई जा रही है. ये घटना फूलपुर थाना क्षेत्र के इमलिया गांव में शुक्रवार की है. ग्रामीणों का कहना है कि इन लोगों की मौत जहरीली शराब पीने की वजह से हुई है. मामले में इस वक्त जांच चल रही है. इस घटना को लेकर प्रयागराज के डीएम भानु चंद्र गोस्वामी ने बताया, अवैध शराब के सेवन से होने वाली मौतों की सूचना मिलने के बाद अधिकारियों की टीम फूलपुर पुलिस थाना सीमा के तहत आने वाले इमलिया गांव पहुंची है.

उन्होंने कहा, हमें सूचना दी गई है कि 4 लोगों की मौत हुई है और 5-6 लोग अस्पताल में भर्ती हैं. मामले की जांच जारी है. बता दें चार लोगों की मौत की खबर सुनकर पुलिस बल भी मौके पर पहुंचा. जिनमें एसपी गंगापार धवल जायसवाल, एसएसपी सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी और डीएम भानु चंद्र गोस्वामी शामिल हैं. गांव में चार लोगों की मौत होने से हड़कंप मच गया है. गांव वाले जहरीली शराब को लेकर हंगामा कर रहे हैं. मामले की शुरुआती पूछताछ में ये सामने आया है कि गांव में मौजूद शराब के ठेके से ही मृतकों ने शराब ली थी.

इन्होंने ये शराब गुरुवार को खरीदी थी. जिसके बाद उनकी तबीयत बिगड़ने लगी और एक एक कर चारों की मौत हो गई. वहीं अस्पताल में भर्ती बाकी लोगों की हालत भी गंभीर बताई जा रही है. अब इस बात की जांच की जा रही जहरीली शराब की बिक्री में कौन कौन शामिल है. आबकारी विभाग के अधिकारियों ने भी सरकारी देशी शराब के ठेके से शराब की सैंपलिंग ले ली है. जिसे जांच के लिए भेजा गया है. अधिकारियों ने बताया कि शराब की जांच की रिपोर्ट आने के बाद ही ये साफ हो पाएगा कि वह जहरीली थी या फिर नहीं. फिलहाल पुलिस और प्रशासन पूरे मामले की जांच कर रहा है.-Uttar Pradesh: 4 people die after drinking poisonous liquor in Prayagraj, many are in critical condition-

अमेरिका: राष्ट्रपति ट्रंप के बड़े बेटे की कोविड-19 रिपोर्ट आई पॉजिटिव, हुए क्वारनटीन

UP: लखनऊ में बर्थडे पार्टी के दौरान सपा एमएलसी के फ्लैट में युवक की गोली मारकर की हत्या