-The famous groom Harish Salve became the groom for the second time at the age of 65- भारत के जाने-माने 65 वर्षीय वकील और पूर्व सॉलिसिटर जनरल हरीश साल्वे ने बुधवार को अपनी दोस्त कैरोलिन ब्रॉसर्ड के साथ लंदन के एक चर्च में शादी कर ली. कोरोना के चलते जारी किए गए दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए हरीश साल्वे ने बुधवार को लंदन के एक चर्च में शादी की. बता दें कि लंदन में शादी समारोह में केवल 15 लोगों को शामिल होने की इजाजत है.

आपको बता दें कि हरीश साल्वे और कैरोलिन दोनों का ये दूसरा विवाह है. दोनों की मुलाक़ात आर्ट एग्जीबिशन में हुई थी. इसके बाद उनकी दोस्ती प्यार में बदली और अब दोनों शादी के बंधन में बंध चुके हैं.

बता दें कि 65 वर्षीय हरीश साल्वे ब्रिटेन में क्वींस काउंसिल हैं. पिछले महीने ही उन्होंने पत्नी मीनाक्षी साल्वे को तलाक दिया और कानूनी तौर पर अलग हो गए थे. हरीश साल्वे और मीनाक्षी की दो बेटियां भी हैं. वहीं, पेशे से कलाकार कैरोलिन 56 साल की हैं और उनकी एक बेटी भी है.

हरीश साल्वे भारत के नामी वकील हैं. भारत सरकार ने उन्हें सॉलिसिटर जनरल नियुक्त किया था. साल्वे, कुलभूषण जाधव सहित कई अंतरराष्ट्रीय मामलों में भारत सरकार की पैरवी कर चुके हैं. उन्होंने कुलभूषण मामले की सुनवाई के लिए सिर्फ एक रुपए फीस ली थी. यही नहीं, देश दुनिया के नामी उद्योगपतियों और कंपनियों वोडाफोन, रिलायंस, मुकेश अंबानी, रतन टाटा जैसे सभी बड़े नामों के कानूनी मामलों की कोर्ट में पैरवी भी साल्वे ही करते रहे हैं.

महाराष्ट्र के नागपुर शहर से निकले हरीश साल्वे का चीफ जस्टिस शरद अरविंद बोबडे से भी ख़ास नाता है. दोनों की पढ़ाई नागपुर के एक ही स्कूल में हुई है. 1976 में साल्वे दिल्ली आ गए और बोबडे मुंबई हाई कोर्ट. बाद में बोबडे हाई कोर्ट में जज बन गए और साल्वे सीनियर एडवोकेट और फिर सॉलिसिटर जनरल बने.

बीते कुछ वर्षों से वो अब लंदन में ही रहते हैं. इंग्लैंड और वेल्स की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय ने हरीश साल्वे को इसी साल जनवरी में अपना काउंसल नियुक्त किया था. गौरतलब है कि महारानी एलिजाबेथ के द्वारा हर साल कॉमनवेल्थ देशों से कुछ वरिष्ठ वकीलों को नियुक्त किया जाता है, जिसमें इस बार हरीश साल्वे भी थे.-The famous groom Harish Salve became the groom for the second time at the age of 65-

यूपी: मेरठ में LPG सिलेन्डर के फटने से कई घरों की छत उड़ी

पाकिस्तान के सासंद का बड़ा खुलासा, ‘PAK अभिनंदन को नहीं छोड़ता तो फॉरवर्ड बेस तबाह कर देते’ भारतीय वायुसेना