Nikita Murder Case Ballabgarh Murder case Accused Tauseef confessed-She was going to marry someone so I killed her: हरियाणा के वल्लभगढ़ में बीकॉम की छात्रा निकिता तोमर की दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या मामले को लेकर पूरे देश में क्रोध का माहौल है. पुलिस इस मामले के मुख्य आरोपी तौसीफ और उसके दोस्त रेहान को गिरफ्तार कर पूछताछ में जुटी है। सूत्रों के मुताबिक, पुलिस पूछताछ में आरोपी तौसीफ ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है. उसने हत्या के पीछे के मकसद का खुलासा करते हुए पुलिस को बताया कि निकिता किसी और से शादी करने वाली थी इसलिए उसने उसे मार दिया। दोनों को फरीदाबाद जिला अदालत में पेश किया गया और उन्हें दो दिन के रिमांड पर लिया गया है।

आरोपी ने पुलिस को यह भी बताया कि उसकी छात्रा से 24 से 25 अक्टूबर की रात लंबी बातचीत हुई थी। दोनों के बीच करीब 1000 सेकंड तक बात हुई थी। मुख्य आरोपी ने पुलिस को बताया कि निकिता किसी और से शादी करने वाली थी, इसलिए उसने उसे मार दिया। इसी के तौसीफ ने पुलिस को यह भी बताया कि उसकी गिरफ्तारी की वजह से मेडिकल की पढ़ाई अधूरी रह गई थी।

पिता ने लगाया लव जिहाद का आरोप
मृतक निकिता के पिता मूलचंद तोमर ने इसे लव जिहाद का मामला बताया है। उन्होंने बताया कि आरोपी तौसीफ ने बेटी का पहले भी अपहरण करने की कोशिश की थी। उस वक्त उसके खिलाफ मुकदमा भी दर्ज कराया गया था। मगर उसके माता-पिता ने जब ये वादा किया था कि वह उनकी बेटी को परेशान नहीं करेगा तो उन्होंने समझौता करके केस वापस ले लिया था। मगर फिर से आरोपी उसे परेशान कर रहा था।

निकिता पर शादी का दबाव बना रहा था आरोपी
पीड़िता के भाई ने एक टीवी न्यूज चैनल से बातचीत में कहा, ‘हमने आरोपी के खिलाफ 2018 में केस दर्ज किया था। वह मेरी बहन को शादी के लिए प्रताड़ित कर रहा था। उसने मेरी बहन को पहले भी किडनैप किया था, हमने उसके खिलाफ एफआईआर कराई थी। पुलिस ने उसी दिन उसे गिरफ्तार किया था और बाद में पंचायत ने दोनों पक्षों के बीच समझौता करा दिया था।’

पुलिस की एफआईआर से परिवार ने जताई थी नाराजगी
छात्रा की दिन दहाड़े गोली मारकर हत्या के बाद इलाके में तनाव फैल गया। परिवार कार्रवाई की मांग करते हुए धरने पर पर बैठ गया था। परिवार ने दिल्ली-मथुरा हाईवे को जाम कर दिया था हालांकि बाद में प्रशासन के समझाने पर पीड़ित परिवार फरीदाबाद-मथुरा हाईवे से हट गया।

निकिता के परिजनों ने पुलिस प्रशासन पर आरोप लगाए थे कि जो एफआईआर दर्ज की गई, उसमें कुछ खामियां हैं। आरोपी निकिता पर धर्म बदलने का दबाव डाल रहा था, जिसका जिक्र इसमें नहीं किया गया है। उन्होंने मांग की कि मामला फास्ट ट्रैक अदालत में भेजा जाए और आरोपियों को फांसी की सजा दी जाए। फरीदाबाद के पुलिस आयुक्त को निर्देश दिया और कहा कि आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

राजनीतिक रसूख वाला है तौसीफ का परिवार
मुख्य आरोपी तौसीफ के दादा कबीर अहमद विधायक रह चुके हैं, जबकि चाचा खुर्शीद अहमद हरियाणा के पूर्व मंत्री रहे हैं। नूंह (मेवात) विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस विधायक आफताब अहमद तौसीफ का चचेरा भाई है। मुख्य आरोपी तौसीफ के साथ-साथ उसका साथी रेहान निवासी नूंह भी साथ था। तौफिक कबीर नगर सोहना का निवासी है।

क्या है मामला?
बता दें कि सोमवार दिनदहाड़े बीकॉम फाइनल इयर की छात्रा निकिता तोमर की दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। वारदात का सीसीटीवी फुटेज सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा था। निकिता उस वक्त फाइनल देकर कॉलेज से लौट रही थी, तभी दो युवकों ने उसे जबरन एक कार में खींचने की कोशिश की, लेकिन निकिता डरी नहीं और इसका विरोध किया।

अपहरण के असफल प्रयास से बौखलाए युवकों ने निकिता की कनपटी पर गोली मार दी और फरार हो गए। निकिता की सहेली ने भी उसे बचाने की कोशिश की लेकिन आरोपी बंदूक दिखाकर उसे धमकाने लगा। छात्रा को इलाज के लिए ले जाते वक्त मौत हो गई। Nikita Murder Case Ballabgarh Murder case Accused Tauseef confessed-She was going to marry someone so I killed her

Bihar Assembly Election 2020: सोनू सूद की बिहार की जनता से अपील- वोट का बटन उँगली से नहीं दिमाग़ से दबाना

अभिनेत्री मालवी मल्होत्रा पर हुआ जानलेवा हमला, मुम्बई के कोकिलाबेन अस्पताल में चल रहा इलाज