कानपुर एनकाउंटर मामले (kanpur encounter case) में कुख्यात अपराधी विकास दुबे के साथी दया शंकर अग्निहोत्री को पुलिस ने कल्याणपुर से गिरफ्तार कर लिया है. समाचार एजेंसी एएनआई ने यह जानकारी दी. बता दें कि गुरुवार देर रात चौबेपुर के बिकरू गांव में आठ पुलिसकर्मियों की हत्या करने वाले विकास दुबे को पकड़ने के लिए पुलिस की 25 से ज्यादा टीमें काम कर रही हैं. पुलिस दल उत्तर प्रदेश के साथ-साथ अन्य राज्यों में विकास को खोजने में लगी है. Kanpur encounter case criminal Vikas Dubey Partner daya shankar agnihotri arrested

गिरफ्तार किए गए दयाशंकर अग्निहोत्री नाम के इस शख्स ने विकास दुबे के घर से हुए हमले को लेकर कई बड़े खुलासे किए हैं। गिरफ्तार दयाशंकर अग्निहोत्री ने पुलिस से शुरुआती पूछताछ में बताया है कि विकास दुबे को किसी का फोन आने के बाद वह सक्रिय हो गया था। उसने फोन कर 25-30 लोगों को अपने घर बुलाया था। इसके अलावा रास्ते पर जेसीबी खड़ी कर पुलिस टीम का रास्ता रोकने का प्लान बनाया गया था। Kanpur encounter case criminal Vikas Dubey Partner daya shankar agnihotri arrested

विकास ने खुद की थी फायरिंग
विकास दुबे और इसके ये सभी साथी घात लगाकर गांव में बैठे थे और पुलिस टीम के यहां पहुंचने के बाद विकास ने खुद भी उनपर फायरिंग की थी। पुलिस टीम दयाशंकर की इस जानकारी के बाद उन लोगों का पता लगाने की कोशिश कर रही है, जिन्हें कि उस रात विकरू गांव से फोन किया गया था। इसके अलावा तमाम ऐसे अभियुक्तों पर भी नजर रखी जा रही है, जिन्हें विकास दुबे के ठिकानों की जानकारी हो।

विकास और गैंग कैसे भागे, इसकी पड़ताल?
बताया जा रहा है कि एसटीएफ की तमाम टीमों ने सेंट्रल यूपी और वेस्ट यूपी के जिलों में डेरा डालकर विकास की तलाश शुरू की है। इस मामले में पुलिस के साथ-साथ खुफिया तंत्र को भी सक्रिय किया गया है। घटना के बाद विकास और उसके साथ कैसे भागे, इसे लेकर भी पुलिस अधिकारी गिरफ्तार दयाशंकर से कड़ी पूछताछ कर रहे हैं। Kanpur encounter case criminal Vikas Dubey Partner daya shankar agnihotri arrested

विकास दुबे पर हत्या और हत्या के प्रयास समेत 60 से ज्यादा केस दर्ज हैं. पुलिस ने मुख्य अभियुक्त विकास पर इनाम की राशि को 50,000 से बढ़ाकर एक लाख रुपये कर दिया गया है. साथ ही 18 अन्य नामजद अभियुक्तों पर 25,000-25,000 रुपये का इनाम घोषित किया गया है. पुलिस ने कहा कि विकास दुबे की जानकारी देने वालों को नाम उजागर नहीं किया जाएगा.

इस बीच, कानपुर पुलिस ने गैंगस्टर विकास दुबे को हीरो बनाने की कोशिश में सोशल मीडिया पर उसके समर्थन में पोस्ट करने वाले कुछ लोगों के खिलाफ ‘डंडा’ चलाना शुरू कर दिया है. पुलिस ने कानपुर के फजलगंज थाने और काकादेव थाने में दो लोगों के लिए खिलाफ एफआईआर पंजीकृत कराई है. कानपुर दक्षिण की पुलिस अधीक्षक अपर्णा गुप्ता ने कहा कि आगे भी इस तरह की कार्रवाई जारी रहेगी. Kanpur encounter case criminal Vikas Dubey Partner daya shankar agnihotri arrested

कानपुर एनकाउंटर: हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे की मां बोली- अगर उसे पकड़ लो तो जान से मार देना

कानपुर एनकाउंटर: विकास दुबे को थी पुलिस के आने की खबर? एसओ विनय तिवारी शक के घेरे में, हो रही पूछताछ

कानपुर एनकाउंटर: हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे को पकड़ने गई पुलिस टीम पर फायरिंग, DSP समेत 8 पुलिसकर्मी शहीद