पिछले शुक्रवार को एयर एशिया इंडिया की पुणे-दिल्ली फ्लाइट में उस वक्त दहशत का माहौल बन गया जब पता चला कि फ्लाइट में कोरोना वायरस का एक संदिग्ध मरीज यात्री कर रहा है. कोरोना से संक्रमित इस यात्री का खबर मिलने पर विमान के दूसरे यात्री और क्रू के सदस्य इतने घबरा गए कि गए कि लैंडिंग के बाद पायलट-इन-कमांड ने कॉकपिट के सेकेंडरी एक्जिट के द्वारा विमान से बाहर निकलने का विकल्प चुना, जो विमान में एक स्लाइडिंग विंडो होती है.

यह सब हुआ 20 मार्च को. घटना पुणे से दिल्ली आए एयर एशिया इंडिया के प्लेन I5-732 की है. यात्रियों की बाद में जांच की गई और नकारात्मक परीक्षण किया गया. इस बारे में एयर एशिया इंडिया के एक प्रवक्ता ने कहा, ’20 मार्च 2020 को I5-732 प्लेन में पुणे से नई दिल्ली फ्लाइट में संदिग्ध COVID-19 यात्री के सवार होने का मामला सामने आया था.’

पहली पंक्ति में बैठे संदिग्ध यात्री की वजह से दहशत का माहौल था. यात्रियों की बाद में जांच की गई और सभी का टेस्ट नेगेटिव आया. सुरक्षा उपाय के रूप में लैंडिंग के बाद विमान को अलग खड़ा किया गया था. यात्रियों को पीछे के रास्ते उतारा गया.’ प्रवक्ता ने कहा कि विमान की पूरी तरह से कीटाणु शोधन और गहरी सफाई की गई. प्रवक्ता ने कहा, ‘हमारे चालक दल इस प्रकृति की घटनाओं के लिए अच्छी तरह से प्रशिक्षित हैं. इसके साथ ही हम मौजूदा परिस्थितियों में अत्यंत सावधानी के साथ यात्रियों की सेवा जारी रखने में उनके समर्पण के लिए हमारी प्रशंसा दर्ज करना चाहेंगे.’

Hindi News Today पांच बजते ही लोगों ने उड़ाई जनता कर्फ्यू की धज्जियां, बॉलीवुड एक्ट्रेस बोलीं- बेवकूफी की सारी हदें पार

डिप्रेशन के लक्षण कारण प्रकार उपचार आहार और डिप्रेशन से होने वाले रोग -अवसाद