गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना संकट और चीन तनाव के बीच मंगलवार 30 जून को देश की जनता को संबोधित किया. अपने संबोधन में उन्होंने कोरोना वायरस और लॉकडाउन में छूट पर विस्तार से बात की, साथ ही गरीबों को मुफ्त राशन देने का ऐलान किया. हालांकि इस बीच कयास लगाए जा रहे थे कि प्रधानमंत्री मोदी अपने संबोधन में भारत-चीन तनाव पर भी बात करेंगे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ. चीन का जिक्र न होने पर कांग्रेस ने प्रधानमंत्री पर निशाना साधा और कहा कि चीन की आलोचना करने वाली बात भूल जाएं, अपने राष्ट्रीय संबोधन में इसका जिक्र करने से भी डरते हैं. कांग्रेस ने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री मोदी का संबोधन कोई सरकारी अधिसूचना हो सकती थी. After the address, the Congress attacked the Prime Minister, said- Modi is afraid to take the name of China

कांग्रेस ने अपने ट्विटर हैंडल पर एक तस्वीर भी लगाई जिसमें चीन के बारे में लिखा गया है. तस्वीर पर लिखा है, चीन भारत की सीमा में 423 मीटर तक घुसपैठ कर गया. कांग्रेस के मुताबिक, 25 जून तक भारतीय सीमा में चीन के 16 टेंट और टरपॉलिन हैं. चीन का एक बड़ा शेल्टर है, साथ ही तकरीबन 14 गाड़ियां हैं. कांग्रेस ने पूछा है कि क्या प्रधानमंत्री इसे नकार सकते हैं? कांग्रेस ने यह भी कहा कि भारत को ऐसे नेता की जरूरत है जो असफलता को स्वीकार करे और उसमें सुधार की गुंजाइश बची हो. ऐसे नेता की जरूरत नहीं है जो परेशानियों को दरकिनार करे और उस पर बात करने से बचे.

इसी के साथ कांग्रेस ने यह भी कहा कि जानकर खुशी हुई कि प्रधानमंत्री ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के आग्रह पर गौर किया है जिसमें गरीबों को मुफ्त अनाज देने की योजना को आगे बढ़ाने की मांग की गई थी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संबोधन से पहले कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने चीन से तनाव और पेट्रोल की बढ़ती कीमतों को लेकर मोदी सरकार को घेरा. राहुल गांधी ने पेट्रोल और डीजल के दामों को लेकर कहा कि पिछले तीन महीने में 22 बार दाम बढ़ाए गए हैं. वहीं, चीन को लेकर कांग्रेस नेता ने कहा कि पीएम मोदी बताएं कि चीन की फौज को वो कब और कैसे देश से निकालेंगे.

राहुल गांधी ने ट्विटर पर एक वीडियो साझा किया. पेट्रोल और डीजल के दामों को लेकर राहुल गांधी ने कहा कि पिछले तीन महीने में 22 बार दाम बढ़ाए गए हैं. पिछले तीन महीनों में कोरोना ने देश की अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंचाया. सबसे ज्यादा नुकसान गरीबों को हुआ. राहुल गांधी ने कहा कि हमने सुझाव दिया था कि न्याय योजना जैसी योजना लागू करिए. हर परिवार के अकाउंट में 7 हजार रुपये डालिए लेकिन सरकार ने सुझाव नहीं माने. वहीं, चीन को लेकर राहुल गांधी ने कहा कि हम जानते हैं कि चीन देश में चार जगह अंदर बैठा है. आप बताइए चीन की फौज को कब और कैसे निकालेंगे. After the address, the Congress attacked the Prime Minister, said- Modi is afraid to take the name of China

PM Narendra Modi Speech Video: पीएम मोदी ने हाथ जोड़कर राष्‍ट्र से की खास अपील, जानिए संबोधन की 5 अहम बातें

TikTok, Helo, Shareit या Likee जैसे चाइनीज ऐप यूजर्स बैन के बाद जरूर करें ये काम, वरना…

Tags:
COMMENT