Ragi in Hindi, रागी का दाना, रागी के फायदे, Ragi Flour in Hindi, Finger Millet in Hindi, What Is Ragi in Hindi, Ragi in Hindi Name, रागी का हिंदी नाम क्या है, Ragi Meaning in Hindi, Ragi Kya Hota Hai, Ragi Benefits in Hindi, रागी के नुकसान, रागी की तासीर क्या होती है, रागी से बीमारियों का इलाज, रागी का भाव, रागी का रेट, Health Benefits of Finger Millet in Hindi, Ragi Ke Fayde in Hindi, Ragi Ke Nusan, Ragi Ki Taseer Kaisi Hoti Hai

परिचय – रागी के फायदे और नुकसान

आज की बदलती जीवन शैली के चलते ज्यादातर लोग किसी न किसी बीमारी से पीड़ित हैं. किसी को हाईब्लड प्रेशर है तो किसी को कब्ज की समस्या. कोई डायबिटीज से डर रहा है तो किसी का इम्यून सिस्टम बेहद कमजोर है. इसके अलावा कई ऐसी बिमारियां है जो आम लोगों की जिंदगी को प्रभावित कर रही है. ऐसे में लाल-भूरे रंग के कुछ अनाज रागी के दाने कमाल कर सकते हैं. एक्सपर्ट का भी मानना है कि रागी के इस्तेमाल से कई सारी बिमारियों से छुटकारा पाया जा सकता है. अनाज रागी के क्या-क्या फायदे हैं आइए जानते हैं- health benefits of ragi or finger millet

कई बिमारियों का सस्ता और बेहतरीन इलाज है रागी

रागी अपने छोटे-छोटे दानों में ढेरों बीमारियों का इलाज समेटे हुए है. यदि आपको वजन कम करना है या कब्ज की शिकायत है, डायबिटीज दस्तक दे रहा है या फिर दिल की चिंता सता रही है. यदि कैल्शियम की कमी है या फिर अन्य कोई बिमारी ने आपकों जकड़ रखा है तो इन सबका सस्ता और बेहतरीन इलाज है रागी का दाना. बहुत आसान तरीके से रागी का सेवन कर आप अनेक बिमारियों को खुद से दूर भगा सकते हैं. रागी आपके खाने को पौष्टिक बनाता है. इसको ऐसे समझ सकते हैं कि 100 ग्राम रागी में पूरे 344 मिलीग्राम कैल्शियम होता है. यह ग्लूटन फ्री भी है. इसलिए इसका सेवन ग्लूटन एलर्जी वाले भी कर सकते हैं.

बॉडी को  रिलैक्स करने में मददगार

रागी को नियमित रूप से सेवन करने या अपने खानपान में शामिल करने से बॉडी को रिलैक्स मिलता है. दरअसल, रागी में मौजूद ऐंटीऑक्सिडेंट्स आपको अवसाद से निकलने में मदद करता है, क्रोध और इन्सोम्निया (नींद न आने की बीमारी) जैसी डिजिज में भी राहत पहुंचाता है. खासतौर पर इसमें पाएं जाने वाले ट्रिप्टोफैन और अमीनो एसिड नाम के ऐंटीऑक्सिडेंट्स रागी को बेहद स्पेशल अनाज बना देते हैं.

पाचन शक्ति बढ़ाए

पेट खराब होना, कई और दिक्कतों को जन्म देता है. ऐसे में रागी का सेवन कई बीमारियों का एक साथ इलाज करेगा. रागी आपके पेट के लिए काफी उपयोगी और असरदार अनाज है. रागी को आहार का हिस्सा बनाए. इसमें मौजूद ऐल्कलाइन तत्व आपके शरीर के पाचनतंत्र को ठीक रखता है और खाने को जल्दी पचाने में सहायक होता है.

हड्डियों से जुड़ी बिमारी भगाए

आज की भागती दौड़ती जिंदगी में हड्डियों से जुड़ी बीमारी सबसे ज्यादा परेशान करने वाली समस्या बन गई है पर रागी के पास इसका भी इलाज है. रागी में पाया जाने वाला फास्फोरस हड्डियों के विकास में सहायक होता है. ये हड्डियों को मजबूत बनाने के साथ जोड़ों में होने वाले दर्द से भी छुटकारा दिलाता है.

त्वचा की खोई रंगत लौटाए

यदि आपको चेहरे पर पिंपल, डार्कसर्कल या झुर्रियों आदि की समस्या है तो रागी के दाने आपके लिए काफी फायदेमेंद साबित हो सकते हैं. रागी के छोटे-छोटे दाने त्वचा पर बड़ा असरदार प्रभाव डालते हैं. रागी का सेवन करने से आपकी त्वचा जवां और चमकदार बनती है. इसमें मौजूद मिथायोनिन और लाइसिन त्वचा की कसावट को बनाए रखने और झुर्रियों को रोकने में मदद करते हैं. इससे आपके चेहरे पर निखार भी आता है.

रखें ध्यान

रागी के सेवन से पहले उसके छिलकों को हटाना ना भूलें, क्योंकि इनके छिलके बहुत मोटे होते हैं और इन्हें पचाने में दिक्कत होती है. इसलिए रागी का सेवन करने से पहले उसे अच्छे से धो लें और उसकी परत यानी छिलके हटा दें.

नुकसान – रागी के नुकसान, Ragi Ke Nusan

रागी का जरूरत से ज्यादा सेवन करना आपके स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है. ज्यादा सेवन से शरीर में आक्जैलिक एसिड बढ़ता है. इसके अलावा यह गुर्दे की पथरी वालों को भी नहीं दिया जाना चाहिए.

रागी की तासीर क्या होती है, Ragi Ki Taseer Kaisi Hoti Hai

रागी की तासीर गरम होती है , क्यूंकि उसमे आयरन होता है। रागी के डेली यूज़ के लिए आपको डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए। हलाकि कम मात्रा मै या सही मात्रा मै रागी सेहत के के लिए बहुत लाभदायक है।

रागी का भाव, रागी का रेट/कीमत

आप रागी ऑनलाइन या फिर पास के ग्रोसरी स्टोर से खरीद सकते है। बेहतर होगा आप ग्रोसरी स्टोर से ही ले। ऑनलाइन रेट बहुत अलग अलग है। हम कुछ ब्रांड के प्राइस शेयर कर रहे है। आप ऑनलाइन लेना चाहे तो एमाज़ॉन या फ्लिपकार्ट से खरीद सकते है।
1- Mirchimints , Original Ragi Whole Grain-500gm – Rs. 199
2- Thiviyam Siri Dhaniyam – Ragi Whole Grain 500 GMS – Rs. 52
3- Naturevibe Botanicals Organic Ragi Atta – 1Kg – Rs. 349
4- Dhatu Organic Ragi Flour Atta , 1 Kg – Rs. 160

Ragi in Hindi, रागी का दाना, रागी के फायदे, Ragi Flour in Hindi, Finger Millet in Hindi, What Is Ragi in Hindi, Ragi in Hindi Name, रागी का हिंदी नाम क्या है, Ragi Meaning in Hindi, Ragi Kya Hota Hai, Ragi Benefits in Hindi, रागी के नुकसान, रागी की तासीर क्या होती है, रागी से बीमारियों का इलाज, रागी का भाव, रागी का रेट, Health Benefits of Finger Millet in Hindi, Ragi Ke Fayde in Hindi, Ragi Ke Nusan, Ragi Ki Taseer Kaisi Hoti Hai

स्वास्थ्य से सम्बंधित आर्टिकल्स – 

  1. बीकासूल कैप्सूल खाने से क्या फायदे होते हैं, बिकासुल कैप्सूल के लाभ, Becosules Capsules Uses in Hindi, बेकासूल, बीकोस्यूल्स कैप्सूल
  2. शराब छुड़ाने की आयुर्वेदिक दवा , होम्योपैथी में शराब छुड़ाने की दवा, शराब छुड़ाने के लिए घरेलू नुस्खे , शराब छुड़ाने का मंत्र , शराब छुड़ाने के लिए योग
  3. कॉम्बिफ्लेम टेबलेट की जानकारी इन हिंदी, कॉम्बिफ्लेम टेबलेट किस काम आती है, Combiflam Tablet Uses in Hindi, Combiflam Syrup Uses in Hindi
  4. अनवांटेड किट खाने के कितने दिन बाद ब्लीडिंग होती है, अनवांटेड किट खाने की विधि Hindi, अनवांटेड किट ब्लीडिंग टाइम, अनवांटेड किट की कीमत
  5. गर्भाशय को मजबूत कैसे करे, कमजोर गर्भाशय के लक्षण, गर्भाशय मजबूत करने के उपाय, बच्चेदानी का इलाज, बच्चेदानी कमजोर है, गर्भाशय योग
  6. जिम करने के फायदे और नुकसान, जिम जाने से पहले क्या खाएं, जिम जाने के बाद क्या खाएं,  जिम जाने के फायदे, जिम जाने के नुकसान,  जिम से नुकसान
  7. माला डी क्या है, Mala D Tablet Uses in Hindi, माला डी कैसे काम करती है, Maladi Tablet, माला डी गोली कब लेनी चाहिए
  8. Unienzyme Tablet Uses in Hindi, Unienzyme गोली, यूनिएंजाइम की जानकारी, यूनिएंजाइम के लाभ, यूनिएंजाइम के फायदे,यूनिएंजाइम का उपयोग
  9. मानसिक डर का इलाज, फोबिया का उपचार, डर के लक्षण कारण इलाज दवा उपचार और परहेज, डर लगना, मानसिक डर का इलाज, मन में डर लगना
  10. हिंदी बीपी, उच्च रक्तचाप के लिए आहार, High Blood Pressure Diet in Hindi, हाई ब्लड प्रेशर में क्या नहीं खाना चाहिए, हाई ब्लड प्रेशर डाइट
  11. क्या थायराइड लाइलाज है, थ्रेड का इलाज, थायराइड क्‍या है, थायराइड के लक्षण कारण उपचार इलाज परहेज दवा,  थायराइड का आयुर्वेदिक
  12. मोटापा कम करने के लिए डाइट चार्ट, वजन घटाने के लिए डाइट चार्ट, बाबा रामदेव वेट लॉस डाइट चार्ट इन हिंदी, वेट लॉस डाइट चार्ट
  13. हाई ब्लड प्रेशर के लक्षण और उपचार, हाई ब्लड प्रेशर, बीपी हाई होने के कारण इन हिंदी, हाई ब्लड प्रेशर १६० ओवर ११०, बीपी हाई होने के लक्षण
  14. खाना खाने के बाद पेट में भारीपन, पेट में भारीपन के लक्षण, पतंजलि गैस की दवा, पेट का भारीपन कैसे दूर करे, पेट में भारीपन का कारण
  15. योग क्या है?, Yoga Kya Hai, योग के लाभ, योग के उद्देश्य, योग के प्रकार, योग का महत्व क्या है, योग का लक्ष्य क्या है, पेट कम करने के लिए योगासन, पेट की चर्बी कम करने के लिए बेस्‍ट योगासन