सहेली टेबलेट, Saheli Tablet Use in Hindi, सहेली टैबलेट का प्रयोग, सहेली गर्भनिरोधक गोली, सहेली टैबलेट के फायदे, सहेली टैबलेट के लाभ, सहेली टैबलेट का उपयोग, सहेली टैबलेट का दुष्प्रभाव, सहेली टैबलेट के साइड-इफेक्ट्स, सहेली टैबलेट समीक्षाएं, सहेली टैबलेट का संयोजन, सहेली टैबलेट सावधानिया तथा खुराक, सहेली टैबलेट का प्रयोग Price, Saheli Pills, Saheli Tablet Price, Saheli Tablet, Saheli Tablet Uses in Hindi, Saheli Tablet Use, Saheli Tablet Side Effects, Saheli Garbh Nirodhak Tablet

सहेली टैबलेट का प्रयोग
सहेली टैबलेट / Saheli Tablet मौखिक गर्भनिरोधक, अक्रियाशील गर्भाशय रक्तस्राव, छाती में दर्द, फाइब्रोएडिनोसिस, उन्नत स्तन कैंसर और अन्य स्थितियों के उपचार के लिए निर्देशित किया जाता है।

यह अन्य गर्भनोरोधक गोलियों से अलग है क्योंकि इसमें कोई हार्मोन नहीं है। यह गर्भावस्था को रोकने के लिए हार्मोन एस्ट्रोजन का उपयोग करने के बजाय, एस्ट्रोजेन को ब्लॉक करती है। एस्ट्रोजेन को अवरुद्ध करके, सहेली गर्भाशय की परत को बदलती है, जो निषेचित अंडे की इम्प्लांटिंग रोकता है। ज्यादातर मामलों में सहेली लेने वाली महिला को मतली, सिरदर्द या वजन में बदलाव आदि नहीं होता।

सहेली एक गैर स्टेरायडल गर्भनिरोधक गोली है। पहले तीन महीनों में इसको सप्ताह में दो बार और फिर सप्ताह में एक बार लिया जाता है। इसमें कोई हार्मोन नहीं होता लेकिन यह शरीर में उत्पादित प्रोजेस्टेरोन हार्मोन पर कार्य करती है। यह शरीर के एस्ट्रोजन रिसेप्टर पर काम करती है। यह अंडाशय, गर्भाशय और स्तन में रिसेप्टर्स को दबाती है लेकिन हड्डियों में एस्ट्रोजन रिसेप्टर्स को उत्तेजित करती है।

एक गर्भनिरोधक के रूप में सहेली का प्रयोग 2000 से अधिक महिलाओं में किया गया है। इसे भारत में बीसों साल से प्रयोग किया जा रहा है। इसका प्रयोग मतली, उल्टी, चक्कर आना पैदा नहीं करता है। यह स्टेरायडल गर्भनिरोधक गोलियां की अपेक्षा ज्यादा लाभकारी है क्योंकि यह अंत: स्रावी प्रणाली endocrine system को प्रभावित नहीं करती और सामान्य मासिक ovulatory चक्र बनाए रखती है।

प्रभावशाली
सहेली लगभग किसी भी सामान्य गर्भ निरोधक गोली जितनी प्रभावशाली है। यदि इसका उपयोग नियमित रूप से किया जाए तो औसत १०० में से केवल २ महिलाओं का ही गर्भ ठहरता है। जबकि होर्मोनल गर्भ निरोधक गोली का सेवन करने वाली महिलाओं के लिए यह आंकड़ा हर १०० में से एक है।

सहेली टैबलेट प्रयोग
सहेली टैबलेट / Saheli Tablet का प्रयोग निम्नलिखित बीमारियों, स्थितियों और लक्षणों के उपचार, नियंत्रण, रोकथाम और सुधार के लिए किया जाता है:

  • मौखिक गर्भनिरोधक
  • अक्रियाशील गर्भाशय रक्तस्राव
  • छाती में दर्द
  • फाइब्रोएडिनोसिस
  • उन्नत स्तन कैंसर

सहेली टैबलेट सेवन विधि और मात्रा , Dosage of Saheli

  • इसे मासिक के पहले दिन से लेना शुरू करें।
  • पहले तीन महीनों में एक गोली एक सप्ताह में दो बार, निश्चित दिनों (जैसे रविवार और बुधवार) पर लें। बाद में एक गोली सप्ताह में एक बार लें।
  • पहले महीने के इसके प्रयोग के दौरान गर्भ निरोधन के दूसरे उपाय जैसे की कंडोम का प्रयोग करें।

सहेली टैबलेट दुष्प्रभाव ,  सहेली का नुकसान

  • यह बहुत से मामलों में गर्भावस्था को रोकने में असफल पायी गई है।
  • शुरू में पीरियड्स के दौरान ज्यादा खून जा सकता है।
  • चेहरे पर मुहांसे हो सकते हैं।
  • ब्रेस्ट में हल्का भारीपन या दर्द हो सकता है।
  • शरीर में पानी रुक सकता water retention है।
  • कुछ मामलों में यह मासिक आने में देरी कर सकती है। (यदि पीरियड होने में एक सप्ताह से ऊपर हो जाए तो प्रेगनेंसी डिटेक्शन कार्ड से गर्भावस्था का पता करें)

सहेली टैबलेट का इस्तेमाल कब ना करें , Saheli Tablet 
सहेली टैबलेट / Saheli Tablet के लिए अतिसंवेदनशीलता एक निषेध है। इसके अतिरिक्त, यदि आपको निम्नलिखित समस्याएं हैं तो सहेली टैबलेट / Saheli Tablet नहीं लिया जाना चाहिए:

  • गंभीर प्रत्यूर्जतात्मक स्थिति
  • गुर्दे की बीमारी
  • ग्रीवा संबंधी अतिवृद्धि
  • जिगर की बीमारी
  • जीर्ण गर्भाशयग्रीवाशोथ
  • पहले छह महीनों में स्तनपान कराने वाली माताएं
  • पीलिया
  • पॉलीसिस्टिक डिम्बग्रंथि रोग

सहेली टैबलेट उत्पादक का नाम : हिंदुस्तान लैटेक्स लिमिटेड , Hindustan Latex Ltd.
दवा का नाम: Saheli Contraceptive Pill – The non-hormonal contraceptive (Weekly oral contraceptive pill)
जेनेरिक: ओरमोलोक्सोफीन Ormeloxifene / सेंटक्रोमेन Centchroman
सहेली टैबलेट मुख्य प्रयोग: गर्भनिरोधक ऑर्मोक्सिफ़ीन चयनात्मक एस्ट्रोजन रिसेप्टर मॉड्यूलर के वर्ग की दवा है
सहेली टैबलेट मूल्य: 8 Tablets @ Rs 22.40
Each Tablet Contains Centchroman (Ormeloxifene) 30 mg

इस दवा का जेनेरिक फार्मूला ओर्मेलोक्सीफेन Ormeloxifene / सेंटक्रोमेन Centchroman है जिसे केंद्रीय दवा अनुसंधान संस्थान (सीडीआरआई), लखनऊ Central drug Research Institute (CDRI), Lucknow ने विकसित किया है और हिंदुस्तान लैटेक्स लिमिटेड एचएलएल ने ब्रांड नाम सहेली दिया है। यह 1991 से मार्किट में मिल रही है। यह एक स्वदेशी विकसित दवा है। यह गर्भाशय रक्तस्राव, ऑस्टियोपोरोसिस और मासिक धर्म पूर्व सिंड्रोम के इलाज के लिए भी फायदेमंद है। यह रक्त में लिपिड स्तर को कम करने के लिए एक दवा के रूप में दी जा सकती है।
जेनरिक: सेंटक्रोमेन Centchroman (इसे ओरमोलोक्सोफीन Ormeloxifene के नाम से भी जाना जाता है)

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

  1. सवाल  – क्या मौखिक गर्भनिरोधक और अक्रियाशील गर्भाशय रक्तस्राव के लिए सहेली टैबलेट / Saheli Tablet का प्रयोग किया जा सकता है?
    जवाब – जी हाँ, मौखिक गर्भनिरोधक और अक्रियाशील गर्भाशय रक्तस्राव सहेली टैबलेट / Saheli Tablet के सबसे सामान्य प्रयोग बताये गए हैं। कृपया, पहले चिकित्सक से परामर्श लिए बिना मौखिक गर्भनिरोधक और अक्रियाशील गर्भाशय रक्तस्राव के लिए सहेली टैबलेट / Saheli Tablet का प्रयोग ना करें। सहेली टैबलेट / Saheli Tablet के सामान्य प्रयोगों के रूप में अन्य मरीज क्या बताते हैं यह जानने के लिए यहां क्लिक करें और सर्वेक्षण परिणामों को देखें।
  2. सवाल  –अपनी स्थितियों में सुधार देखने से पहले मुझे कितने समय तक सहेली टैबलेट / Saheli Tablet प्रयोग करने की जरुरत होती है?
    जवाब – आपको कितने समय तक सहेली टैबलेट / Saheli Tablet का सेवन करने की जरुरत है इसके बारे में जानकारी पाने के लिए कृपया अपने चिकित्सक से संपर्क करें।
  3. सवाल  – आपको कितनी बार सहेली टैबलेट / Saheli Tablet प्रयोग करने की जरुरत होती है?
    जवाब –आपको कितनी बार सहेली टैबलेट / Saheli Tablet का प्रयोग करने की जरुरत है इस पर अपने चिकित्सक की सलाह का पालन करें।
  4. सवाल  –क्या मुझे इस उत्पाद का उपयोग पेट से पहले या भोजन के बाद खाली पेट का उपयोग करना चाहिए?
    जवाब – सबसे सामान्य तौर पर खाने के बाद सहेली टैबलेट / Saheli Tablet का सेवन करने के बारे में बताया है। हालाँकि, यह इस बात को नहीं दर्शाता है कि आपको यह दवा कैसे लेनी चाहिए। आपको यह दवा कैसे खानी चाहिए इस पर अपने चिकित्सक के सुझाव का पालन करें।
  5. सवाल  – क्या इस उत्पाद का उपयोग करते समय भारी मशीनरी को चलाने या संचालित करना सुरक्षित है?
    जवाब – यदि सहेली टैबलेट / Saheli Tablet दवा का सेवन करने के बाद दुष्प्रभावों के रूप में आपको निद्रा, चक्कर आना, निम्न रक्तचाप या सिरदर्द का अनुभव होता है तो गाड़ी या भारी मशीन चलाना सुरक्षित नहीं होता है। यदि दवा खाने पर आपको नींद आती है, चक्कर आता है या आपका रक्तचाप बेहद कम हो जाता है तो आपको गाड़ी नहीं चलानी चाहिए। दवा विक्रेता दवाओं के साथ शराब ना पीने की सलाह देते हैं क्योंकि शराब नींद के दुष्प्रभाव को तेज कर देता है। सहेली टैबलेट / Saheli Tablet का प्रयोग करते समय कृपया इन प्रभावों का ध्यान रखें। अपने शरीर और स्वास्थ्य स्थितियों के अनुसार सुझाव पाने के लिए हमेशा अपने चिकित्सक से परामर्श करें।
  6. सवाल  –क्या यह दवा या उत्पाद व्यसनी या आदत बनाने वाला है?
    जवाब –ज्यादातर दवाओं में व्यसन का दुरूपयोग की संभावना नहीं होती है। आमतौर पर, सरकार उन दवाओं को नियंत्रित पदार्थ के रूप में वर्गीकृत कर देती है जो व्यसनी हो सकती हैं। भारत में अनुसूची H या X और अमेरिका में अनुसूची II-V इसके उदाहरण के लिए रूप में शामिल हैं। आपकी दवा दवाओं की ऐसी किसी विशेष श्रेणी से संबंधित नहीं है इस बात को सुनिश्चित करने के लिए कृपया उत्पाद पैकेज देखें। अंत में, चिकित्सक की सलाह के बिना खुद दवाएं ना लें और दवाओं के लिए अपने शरीर की निर्भरता ना बढ़ाएं।
  7. सवाल  – क्या मैं तुरंत इस उत्पाद का उपयोग करना बंद कर सकता हूं या क्या मुझे धीरे-धीरे उपयोग को कम करना है?
    जवाब –प्रतिघात प्रभावों की वजह से कुछ दवाओं को धीरे-धीरे कम करने की जरुरत होती है या उन्हें तुरंत बंद नहीं किया जा सकता है। अपने शरीर, स्वास्थ्य और आपके द्वारा प्रयोग की जाने वाली अन्य दवाओं के अनुसार सुझाव पाने के लिए कृपया अपने चिकित्सक से परामर्श लें।

सहेली टैबलेट / Saheli Tablet – अन्य महत्वपूर्ण जानकारियां

  • खुराक छूटना – यदि आपकी कोई खुराक छूट जाती है तो याद आने पर जल्दी से जल्दी खुराक का सेवन करें। यदि आपकी अगली खुराक का समय निकट है तो छूटी हुई खुराक छोड़ दें और अपने खुराक का शिड्यूल दोबारा शुरू करें। छूटी हुई खुराक की भरपाई करने के लिए अतिरिक्त दवा का सेवन ना करें। यदि आप नियमित रूप से अपनी खुराक लेना भूल जा रहे हैं तो अलार्म लगाएं या अपने परिवार के किसी सदस्य को याद दिलाने के लिए कहें। यदि हाल में आपने कई खुराकें छोड़ दी हैं तो छूटी हुई दवाओं की भरपाई के लिए समय में परिवर्तन और नए समय के बारे में चर्चा करने के लिए कृपया अपने चिकित्सक से परामर्श लें।
  • सहेली टैबलेट / Saheli Tablet की अधिक मात्रा – निर्देशित खुराक से ज्यादा का सेवन ना करें। ज्यादा दवा के उपयोग से आपके लक्षणों में सुधार नहीं होगा, बल्कि इससे विषाक्तता या गंभीर दुष्प्रभाव हो सकते हैं। यदि आपको लगता है कि आपने या किसी और ने सहेली टैबलेट / Saheli Tablet की ज्यादा खुराक ले ली है तो कृपया अपने नजदीकी अस्पताल या नर्सिंग होम के आपातकालीन विभाग में जाएँ। आवश्यक जानकारी पाने में चिकित्सकों की सहायता करने के लिए अपने साथ मेडिसिन बॉक्स, कंटेनर या लेबल ले जाएँ।
  • यदि आपको पता है कि किसी व्यक्ति की स्थिति आपके समान है या यदि ऐसा प्रतीत होता है कि उनकी बीमारी आपके जैसी है तो भी कभी अपनी दवाएं दूसरे लोगों को ना दें। इसकी वजह से दवा की अधिमात्रा हो सकती है।
  • ज्यादा जानकारी के लिए अपने चिकित्सक या दवा विक्रेता या उत्पाद पैकेज से परामर्श लें।
    सहेली टैबलेट / Saheli Tablet का संग्रहण दवाओं को गर्मी और सीधी रोशनी से दूर, कमरे के तापमान पर रखें। दवाओं को फ्रीज़ में ना रखें .

स्वास्थ्य से सम्बंधित आर्टिकल्स – 

बीकासूल कैप्सूल खाने से क्या फायदे होते हैं, बिकासुल कैप्सूल के लाभ, Becosules Capsules Uses in Hindi, बेकासूल, बीकोस्यूल्स कैप्सूल

शराब छुड़ाने की आयुर्वेदिक दवा , होम्योपैथी में शराब छुड़ाने की दवा, शराब छुड़ाने के लिए घरेलू नुस्खे , शराब छुड़ाने का मंत्र , शराब छुड़ाने के लिए योग

ज्यादा नींद आने की वजह, Jyada Nind Kyon Aati Hai, ज्यादा नींद आना के कारण, ज्यादा नींद आना, शरीर में सुस्ती, शरीर में थकावट

अनवांटेड किट खाने के कितने दिन बाद ब्लीडिंग होती है, अनवांटेड किट खाने की विधि Hindi, अनवांटेड किट ब्लीडिंग टाइम, अनवांटेड किट की कीमत

गर्भाशय को मजबूत कैसे करे, कमजोर गर्भाशय के लक्षण, गर्भाशय मजबूत करने के उपाय, बच्चेदानी का इलाज, बच्चेदानी कमजोर है, गर्भाशय योग

जिम करने के फायदे और नुकसान, जिम जाने से पहले क्या खाएं, जिम जाने के बाद क्या खाएं,  जिम जाने के फायदे, जिम जाने के नुकसान,  जिम से नुकसान

माला डी क्या है, Mala D Tablet Uses in Hindi, माला डी कैसे काम करती है, Maladi Tablet, माला डी गोली कब लेनी चाहिए

Unienzyme Tablet Uses in Hindi, Unienzyme गोली, यूनिएंजाइम की जानकारी, यूनिएंजाइम के लाभ, यूनिएंजाइम के फायदे,यूनिएंजाइम का उपयोग

मानसिक डर का इलाज, फोबिया का उपचार, डर के लक्षण कारण इलाज दवा उपचार और परहेज, डर लगना, मानसिक डर का इलाज, मन में डर लगना

हिंदी बीपी, उच्च रक्तचाप के लिए आहार, High Blood Pressure Diet in Hindi, हाई ब्लड प्रेशर में क्या नहीं खाना चाहिए, हाई ब्लड प्रेशर डाइट

क्या थायराइड लाइलाज है, थ्रेड का इलाज, थायराइड क्‍या है, थायराइड के लक्षण कारण उपचार इलाज परहेज दवा,  थायराइड का आयुर्वेदिक

मोटापा कम करने के लिए डाइट चार्ट, वजन घटाने के लिए डाइट चार्ट, बाबा रामदेव वेट लॉस डाइट चार्ट इन हिंदी, वेट लॉस डाइट चार्ट

हाई ब्लड प्रेशर के लक्षण और उपचार, हाई ब्लड प्रेशर, बीपी हाई होने के कारण इन हिंदी, हाई ब्लड प्रेशर १६० ओवर ११०, बीपी हाई होने के लक्षण

खाना खाने के बाद पेट में भारीपन, पेट में भारीपन के लक्षण, पतंजलि गैस की दवा, पेट का भारीपन कैसे दूर करे, पेट में भारीपन का कारण

योग क्या है?, Yoga Kya Hai, योग के लाभ, योग के उद्देश्य, योग के प्रकार, योग का महत्व क्या है, योग का लक्ष्य क्या है, पेट कम करने के लिए योगासन, पेट की चर्बी कम करने के लिए बेस्‍ट योगासन