मोटापा कम करने के लिए डाइट चार्ट, वजन घटाने के लिए डाइट चार्ट, बाबा रामदेव वेट लॉस डाइट चार्ट इन हिंदी, वेट लॉस डाइट चार्ट, वजन और मोटापा कम करने के लिए डाइट चार्ट, मोटापा कम करने की डाइट, मोटापा डाइट चार्ट, वजन कम करने के लिए भोजन, पुरुषो और महिलाओं के लिए डाइट चार्ट, Motapa Kam Karne Ke Upay In Hindi, Motapa Kam Karne Ke Liye Diet Plan in Hindi, Weight Loss Diet Chart in Hindi

मोटापा कम करने के लिए डाइट चार्ट,  Weight Loss Diet in Hindi
मोटापा किसी के लिए भी परेशानी और शर्मिंदगी का सबब बन जाता है। कोई भी नहीं चाहता की उसका थुलथुल ढीला, भारी भरकम शरीर हो। यह आपके पूरी पर्सनालिटी की रौनक को खत्म कर देता है । ज्यादा मोटापा सिर्फ सुंदरता ही कम नहीं करता बल्कि शरीर को बीमारियों का घर बना देता है। एक अच्छी पर्सनैलिटी की पहचान स्वस्थ शरीर से होती है।

तो आइए जानते हैं कि वजन घटाने के लिए आपको क्‍या और कब खाना चाहिए। नीचे डाइट चार्ट दिया गया है जिसमें प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट और विटामिंस शामिल हैं। Vajan Ghatane Ke Liye Diet Chart Weight Loss Diet in Hindi

मोटापा कम करने के लिए डाइट चार्ट का पहला भोजन: सुबह उठने के तुरंत बाद 
अगर आपने अभी तक ये आदत नहीं डाली है तो अब डाल लीजिये। सुबह उठकर खाली पेट पानी का सेवन करना आपके शरीर के लिए सबसे ज़्यादा लाभदायक है क्यूंकि शरीर में मौजूद विषैले पदार्थ निकल जाते हैं जिससे खून भी साफ होता है और खून के साफ हो जाने से त्वचा पर भी चमक आती है। वज़न घटाने के लिए तो जितना जल्दी हो सके खाली पेट पानी को पियें। अगर आप गुनगुने पानी के साथ सिर्फ निम्बू डालकर पियेंगे तो आपका पेट साफ़ होने के साथ ही स्वस्थ भी रहेगा। जिन्हें रक्त शुगर है वो चीनी के साथ निम्बू पानी को नज़रअंदाज़ करें और जिन्हे हाई बीपी की शिकायत है वो नमक के साथ निम्बू पानी का सेवन न करें। Vajan Ghatane Ke Liye Diet Chart Weight Loss Diet in Hindi

खाली पेट नींबू पानी पीने के फायदे

  • नींबू पानी शरीर का मोटापा कम करने का सबसे अच्छा तरीका है।
  • नींबू में विटामिन सी होता है साथ ही कई ऐसे पदार्थ होते हैं जो कि आपके शरीर को रोगों से लड़ने में मदद मिलती है। इससे सांस से जुड़े रोग, सर्दी-जुकाम, खाँसी होने का खतरा भी कम हो जाता है।
  • नींबू पानी पीने से डायबिटीज से जुडी बीमारियां दूर होती है। नींबू पानी को खासतौर पर हाई शुगर वाले जूस व ड्रिंक का बेहतर विकल्प माना जाता है।
  • नींबू पानी मोटापे को ही कम नहीं करता, बल्कि ये लिवर को भी ठीक रखता है। नींबू में साइट्रिक एसिड होता है जिससे शरीर के एन्जाइम्स को सही तरीके से काम करने में मदद मिलती है। इससे आपके लिवर को अधिक लाभ मिलता है।
  • नींबू पानी में फ्लेवनॉयड्स होते हैं जो पाचन तंत्र को अच्छा रखते हैं। यही वजह है कि पेट जब खराब होता है तो नींबू पानी पिलाया जाता है। रोज सुबह नींबू पानी पीने से खाना हजम करने की शक्ति बढ़ती है। साथ ही ये एसिडिटी से भी राहत दिलाता है।

मोटापा कम करने के लिए डाइट प्लान का दूसरा भोजन: नाश्ता 
सुबह उठकर खाली पेट नींबू पानी पीने के दो घंटे बाद नाश्ता करें। नाश्ते में हमेशा पोषक तत्व लें क्यूंकि एक नए दिन के साथ आपके शरीर को भी नया पोषण चाहिए होता है। चाय के साथ बिस्कुट नमकीन ले लेना कोई नाश्ता नहीं होता और न ही पोषण भरा होता है। नाश्ते में पोषक तत्वों को लेने से शरीर का फैट कम होता है और साथ ही इसके सेवन से आपके दिन की शुरुआत एक नयी ऊर्जा के साथ होगी।

नाश्ते में क्या लें
2 अंडे, उबली सब्जियां जैसे पत्ता गोबी (कम कैलोरी, फाइबर विटामिन सी), फूलगोबी (विटामिन सी, विटामिन K, फाइबर), साग (विटामिन ए, विटामिन K, फाइबर, आयरन), चुकुन्दर, टमाटर आदि। बिन मलाई वाला एक गिलास दूध। या फिर दाल का चीला या बेसन का चीला ले सकते हैं इसके साथ बिन मलाई वाला दूध लें।

नाश्ते में इन आहार के फायदे

  • अंडे में विटामिन, प्रोटीन और खनिजों का एक अच्छा स्रोत पाया जाता है। अंडा न केवल पोषक तत्व का एक स्त्रोत है बल्कि वज़न को कम करने के लिए भी मदद करता है। अगर आप और व्यंजनों को अंडे के साथ लेते हैं तो इससे शरीर में कार्बोहाइड्रेट की खपत सीमित हो जाएगी। अंडा खुद में ही वज़न को कम करने में पर्याप्त है। अंडा वज़न कम करने के साथ-साथ हड्डियों, बालों, गर्भवती महिलाओं के लिए बेहद ही गुणकारी है।
  • अगर आप शरीर में इम्युनिटी बढ़ाना चाहते हैं तो सब्ज़ियों को उबाल लीजिये। खाने में ये टेस्टी लगने के साथ ही शरीर को भी अंदर से फिट कर देगा। उबली हुई सब्जियों को खाने से हमारा फैट बढ़ता नहीं है और धीरे-धीरे बढ़ा हुआ वजन कंट्रोल हो जाता है क्यूंकि उबली हुई सब्ज़ियों मे से पोषक तत्व खत्म नहीं होते और तेल मसालों से आप दूर रहते हैं। उबली हुई सब्ज़ियां खाने से सिर्फ वज़न ही कम नहीं होता बल्कि बिमारियों का खतरा भी कम हो जाता है। उबालकर खाने से सब्ज़ियों की सारी गंदगी नष्ट हो जाती हैं जिस कारण हम कई बीमारियों से बचे रहते हैं जैसे हार्ट अटैक, कैंसर आदि। अगर आप अपने शरीर में एंटी-ऑक्सीडेंट बढ़ाना चाहते हैं तो आप उबली हुई सब्जियों का सेवन भरपूर मात्रा में करें। इससे शरीर को बीमारियों से बचाने में मदद मिलती है।
  • वज़न कम करने के लिए जितना हो सके वसा से जुडी चीज़ो से दूर रहें। अगर आप दूध पीते हैं तो बिन मलाई वाला पिए इससे आपके शरीर में वसा की मात्रा नहीं बढ़ेगी और आप कोलेस्ट्रॉल की बीमारियों से भी बचे रहेंगे।

वजन कम करने के लिए डाइट चार्ट का तीसरा भोजन: नाश्ते के 3 घंटे बाद 
मोटापा कम करने के लिए डाइट प्लान का तीसरा भाग है नाश्ते के 3-4 घंटे बाद (तकरीबन 12 बजे) एक पेय पदार्थ लेना। आप कोई पेय पदार्थ लें जिससे आपके शरीर में ऊर्जा बनी रहेगी।नाश्ते के 3-4 घंटे बाद ग्रीन टी या नारियल पानी पियें।

नाश्ते के बाद इन आहार के फायदे

  • मोटापे को कम करने में ग्रीन टी बेहतरीन घरेलू उपाय है। खाना खाने के बाद अगर आप ग्रीन टी को पीते हैं तो यह आपकी पाचन शक्ति को बढ़ायेगा और इसमे शामिल पोषक तत्व वजन कम करने में अहम भूमिका निभाते हैं।
  • ग्रीन टी को अगर आप खाना खाने के 1 घंटा पहले पीतें हैं तो यह आपके वजन को कम करता है और आपकी भूख पर नियंत्रण भी रखता है।
  • ग्रीन टी पूरी तरह से एंटीआक्सीडेंट होता है। साथ ही ग्रीन टी में बीमारियों से लड़ने की क्षमता होती है। ग्रीन टी को दिन में 2 से 3 बार पीने से आपका शरीर रोगमुक्त रहेगा।
  • नारियल पानी वज़न घटाने में सबसे अच्छा पेय पदार्थ है। यह कैलोरी में कम होता है और पचाने में आसान होता है। नारियल पानी पीने से हमारी शरीर का मेटाबोलिज्म रेट बढ़ जाता है जिसके फलस्वरूप हमारी शरीर का शुगर बर्न होने लगता है और शरीर की अतिरिक्त चर्बी कम होने लगती है।
  • नारियल का पानी रक्तचाप को संतुलित रखता है, पानी की कमी को पूरा करता है, हड्डियों को मजबूत रखता है और चेहरे पर चमक लाता है।

वजन घटाने के लिए डाइट चार्ट का चौथा भोजन: दोपहर का खाना 

मोटापा कम करने के लिए डाइट प्लान का अगला हिस्सा है दोपहर का खाना। इसे आप दोपहर के एक या 2 बजे करें। इसमें ज़रूरी है कि बस खाली सब्ज़ी, रोटी न खाएं बल्कि और भी कई पोषक आहार लें जिससे आपके शरीर को पोषक तत्व मिलते रहें और साथ ही आपका वज़न भी नियंत्रण में रहे।

दोपहर के खाने में क्या लें
आप कई तरह के सलाद ले सकते हैं जैसे हरी पत्तेदार सब्ज़ियों का सलाद (हरी पत्तेदार सब्जियों जैसे पालक, गोबी या पत्ता गोभी, खीरा, ककड़ी और मिर्च आदि से बनता है, ग्रीन सलाद में विटामिन बी12 का अच्छा स्रोत होता है), वेजिटेबल सलाद (हरे रंग की सब्जियों के अलावा दूसरे रंगों की सब्जियां जैसे खीरा, मिर्च, टमाटर, मशरूम, प्याज, मूली, गाजर आदि), आप ऐसे ही कई तरह के सलाद ले सकते हैं। खाने में थोड़ी सी दाल लें और इसे सिर्फ 1 चम्मच तेल में ही बनाएं इससे आपका वज़न संतुलित रहेगा या फिर आप ब्राउन चावल और उसके साथ एक कटोरी खीरे का रायता भी ले सकते हैं।

दोपहर के आहार को खाने के फायदे

  • जिन लोगों को ज़्यादा भूख लगती है उन्हें सलाद खाना चाहिए। इसमें मौजूद फइबर भूख को शांत रखता है, जिससे हमारा पेट भरा-भरा रहता है जिसकी वजह से हमारा वज़न कंट्रोल में रहता है और मोटापा बढ़ता नहीं है। सलाद में फाइबर पाया जाता है। इसके सेवन से शरीर में फाइबर की कमी पूरी हो जाती है। सलाद खाने से वज़न कम होता है और पाचन शक्ति भी सुधरती है। यह दिल के लिए भी फायदेमंद होता है और शरीर को कैंसर जैसी गंभीर बिमारियों से बचाता है।
  • दाल को खाने का जो सबसे बड़ा फायदा है वो है इसमें प्रोटीन, फाइबर, विटामिन और मिनरल्स का भरपूर मात्रा में पाया जाना। अरहर, मुंग, मसूर, चना, उड़द इन सभी दालों में प्रोटीन बहुत ही ज़्यादा मात्रा में पाया जाता है। इनमे फैट और कैलोरी बहुत ही कम होती हैं। अगर आप एक कप दाल खाते है तो जल्दी भूख बिलकुल भी नहीं लगेगी और वज़न कम करने में मदद होगी।
  • ब्राउन राइस में फाइबर की मात्रा ज़्यादा पायी जाती है जो कि बेहतर पाचन में मदद करता है। काफी भारी होने की वजह से दुबारा भूख का लगना नामुमकिन होता है। ब्राउन राइस खाने से पेट काफी भरा रहता है और स्वास्थ के लिए भी बेहद फायदेमंद होता है। खीरे में पानी अधिक होता है और कैलोरी भी कम होती है, इसलिए वजन कम करने के लिए खीरा अच्छा विकल्प होता है।

मोटापा कम करने के लिए डाइट चार्ट का पांचवा भोजन: दोपहर के खाने के दो घंटे बाद 

दोपहर के खाने के बाद ज़रूरी है ग्रीन टी लें इससे आपकी पाचन शक्ति बढ़ेगी और इसमे शामिल पोषक तत्व आपका वजन कम करने में मदद करेंगे।

  • ग्रीन टी को अगर आप खाना खाने के 1 घंटा पहले पीतें हैं तो यह आपके वजन को कम करता है और आपकी भूख पर नियंत्रण भी रखता है।
  • ग्रीन टी पूरी तरह से एंटीआक्सीडेंट होता है। साथ ही ग्रीन टी में बीमारियों से लड़ने की क्षमता होती है। ग्रीन टी को दिन में 2 से 3 बार पीने से आपका शरीर रोगमुक्त रहेगा।

वजन कम करने के लिए डाइट प्लान का छठा भोजन: शाम का नाश्ता 

दोपहर के खाने के 4-5 घंटे बाद शाम के नाश्ते को भी ज़रूर लें लेकिन उसमे पोषक तत्व भी होने ज़रूरी हैं।

शाम के नाश्ते में क्या लें – मुरमुरे को खूब सारी सब्ज़ियों के साथ इसका सेवन करें इसमें आप नींबू भी डालें जिससे आपको विटामिन सी की मात्रा मिलती रहें या फिर फल या अंकुरित दाल भी ले सकते हैं।

शाम के नाश्ते को खाने के फायदे

  • शाम को भारी खाने की ज़रुरत नहीं होती इसलिए आप सब्ज़ियों को मुरमुरे के साथ कुछ टेस्टी बनाकर खा सकते हैं इससे आपको ज़रूरी पोषित आहार भी मिलेंगे साथ ही वज़न बढ़ने का डर भी नहीं होगा।
  • फल खाने से आपकी विटामिन की मात्रा पूरी होगी और कई बीमारियां को दूर करने में मदद मिलेगी।
  • अंकुरित दाल के खाने से आपकी हड्डिया मजबूत होती है साथ ही मोटापा भी कम होता है।

मोटापा कम करने के लिए डाइट चार्ट का सातवाँ भोजन: रात का खाना 

मोटापा कम करने के लिए डाइट प्लान का अंतिम भाग है रात का खाना। आमतौर पर लोग नाश्‍ता कम खाते हैं और रात का भोजन हैवी करते हैं जबकि होना इसका उल्‍टा चाहिए। अगर आपको वज़न कम करना है तो रात में कम कैलोरी वाला खाना खाना चाहिए।

रात को खाने में क्या लें – आप रात के खाने में भी कई तरह के सलाद ले सकते हैं हरी पत्तेदार सब्ज़ियों का सलाद, वेजिटेबल सलाद लें। रात में चिकन या फिर दाल ले सकते हैं लेकिन जो लोग मांसाहारी नहीं है वो दाल का विकल्प ले सकते हैं।

रात को खाने में आहार के फायदे

  • सलाद से आपके शरीर को फाइबर मिलेगा साथ ही फाइबर मिलने से भूख भी कम लगेगी।
  • रात के खाने में चिकन खाने से वज़न कम होता है क्यूंकि चिकन प्रोटीन से भरपूर होता है और हमारी शरीर को प्रोटीन मिलने से वज़न नियंत्रित रहता है।
  • और अगर आप एक कप दाल खाते है तो जल्दी भूख भी नहीं लगेगी और वज़न कम करने में मदद मिलेगी।

बाबा रामदेव का वेट लूज़ प्लान

बाबा रामदेव का मोटापा कम करने का डाइट चार्ट , बाबा रामदेव वेट लॉस डाइट चार्ट इन हिंदी
आप किसी भी बीमारी का नाम ले लो बाबा रामदेव के पास हर बीमारी का समाधान है। आयुर्वेद, व्यापार, राजनीति और कृषि में अपने काम के लिए जाने जाने वाले बाबा रामदेव ने विभिन्न स्वास्थ्य समस्याओं का इलाज किया है। बाबा रामदेव ने कहा कि सभी बीमारियों का इलाज योग और स्वस्थ जीवन शैली में है। उन्होंने योग को भारत में और विदेशों में अन्य की तरह लोकप्रिय बनाया। यहां उनके कुछ सुझाव दिए गए हैं जो आपको वज़न घटाया उन में मदद करेंगे।

कार्ब्स को अलविदा कह दो, Bid Goodbye to Carbs – स्वस्थ खाओ, स्वस्थ रहो! आटा, चीनी, स्टार्च युक्त सब्जियाँ जैसे आलू और अधिकांश अनाज खाने से बचें। इन खाद्य पदार्थों के कारण रक्त शर्करा में वृद्धि होती है और अग्न्याशय इंसुलिन को मुक्त करने के लिए अतिरिक्त चीनी को वसा या फैट में को बदल देता है। इन चीजों को नियमित रूप से खाने से बचने के लिए कुछ नियम बनाने की जरूरत है।

नियमित रूप से पानी पिएं , Drink Water Regularly – सोडा, मीठा चाय, अत्यधिक शक्करयुक्त पेय, प्रोसेस्ड फ्रूट जूस और अल्कोहल को अपने आहार से खत्म करना बहुत जरूरी है। इसके बजाय, पानी पिएं क्योंकि यह आपके सिस्टम से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करता है।

अपने आहार में फाइबर को शामिल करें – Incorporate Fiber in Your Diet – फाइबर आप अपने भोजन इच्छा ( Cravings ) में कटौती और प्राकृतिक भूख मारक के रूप में कार्य करने के लिए मदद करता है। इसके अलावा फाइबर युक्त खाद्य पदार्थों में वसा सामग्री कम हैं। साक्ष्य अब इस धारणा का समर्थन करते है कि घुलनशील फाइबर (जैसे जई, राई जौ, और बीन्स) वाले खाद्य पदार्थ कोलेस्ट्रॉल, ट्राइग्लिसराइड्स और रक्त में अन्य कणों पर सकारात्मक प्रभाव डालते हैं जो हृदय रोग के विकास को प्रभावित करते हैं। आहार में फाइबर जोड़ने से रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में मदद मिलती है, जो मधुमेह से बचने में महत्वपूर्ण है।

देर रात के स्नैक्स खाने से बचें , Avoid Late Night Snacks – जब आप रात को खाते हैं तो आपका वजन बढ़ने की संभावना अधिक होती है क्योंकि आपकी पाचन क्रिया धीमी हो जाती है और आप सक्रिय नहीं रहते हैं, इसलिए आप कई कैलोरी नहीं जलाते हैं। इसलिए रात 9 बजे के बाद खाना खाने से बचें। यदि आपके देर रात के खाने में मक्खन के साथ पनीर, आइसक्रीम, या पीनट बटर के गोब्स शामिल हैं, तो अब स्वास्थ्यवर्धक विकल्पों पर स्विच करने का समय आ गया है।

मेटाबॉलिज्म बढ़ाने के लिए छोटे भोजन खाएं , Eat Small Meals to Increase Metabolism – आप रोज़ाना हर 2-3 घंटे में 5-6 छोटे भोजन खाने की एक नियम बनाएं। यह वैज्ञानिक रूप से सिद्ध हो चुका है कि बार-बार खाने से आप अपने शरीर के प्राकृतिक पाचन क्रिया को बढ़ाएंगे। इसका मतलब है कि आपका शरीर स्वाभाविक रूप से अधिक वसा जलाएगा।

बाबा रामदेव का मोटापा कम करने के लिए टिप्स
स्वामी रामदेव ने 5 ऐसे टिप्स बताए हैं जिन्हें रोजाना फॉलो करने से सिर्फ 1 माह में ही 5 से 10 किलो वजन कम किया जा सकता है। इसके लिए आपको किसी दवा को नहीं अपनाना। बस अपनी लाइफस्टाइल में बदलाव के साथ-साथ डाइट में परिवर्तन ही आपका वजन आसानी से कम हो सकता है। जानिए वजन घटाने वाले इन टिप्स के बारे में –

  1. रोजाना एक कप हल्का गर्म पानी पिएं। लगातार एक माह पीने से आपका कम से कम 2 किलो वजन कम हो जाएगा।
  2. रोजाना कपालभाति करें। इससे 45 दिनों में करीब 10 किलो वजन कम हो सकता है।
  3. चीनी का सेवन बेहद कम कर दें। मोटापा बढ़ने का मुख्य कारण चीनी है। इसलिए चीनी और नमक का सेवन कम करें।
  4. खाने के बाद वज्रासन करें। खाने के बाद कुछ मिनट वज्रासन में बैठे। इससे मोटापा कम होगा।
  5. सप्ताह में एक बार व्रत रखें। कई शोधों के अनुसार व्रत रखने से कई स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं से निजात मिलती है। इससे मोटापे के साथ-साथ ब्लड प्रेशर, कोलेस्ट्राल कम होता है।
  6. व्रत के समय फलों का सेवन करें। अगर ज्यादा कमजोरी लग रही है तो एक गिलास दूध लें।

वजन कम करने के लिए बाबा रामदेव के घरेलू उपचार 
स्वामी रामदेव के अनुसार, स्वस्थ आहार का हमारे स्वास्थ्य पर भी सबसे अधिक प्रभाव पड़ता है। यदि आप अधिक मात्रा में कार्बोहाइड्रेट का सेवन करते हैं, तो लिपोजेनेसिस सिस्टम इसे वसा में परिवर्तित करता है। जिसके कारण आपका वजन तेजी से बढ़ने लगता है। इसलिए जंक फूड, चाइनीज खाना, तले भुने व्यंजन, अनाज, नमक का अधिक सेवन, घी, तेल आदि खाना बंद कर दें।

  • सुबह योग करने से पहले गर्म पानी के साथ नींबू और शहद लें।
  • जब भी आपको भूख लगे, तब तरबूज खाएं।
  • लौकी का जूस पिएं।
  • अश्वगंधा के 2-3 पत्ते दिन में 3 बार खाएं।
  • मूंग दाल का सूप और अंकुरित मूंग खाएं।
  • ओटमील और खिचड़ी खाएं।
  • गिलोय का काढ़ा पिएं
  • गोमूत्र अर्क 20-25 एमएल पिएं।

बाबा रामदेव वेट लॉस चार्ट  , बाबा रामदेव वजन घटाने का डाइट चार्ट 7 दिन के लिए
बाबा रामदेव कहते है की भोजन को सरल और आसान बनाना आपके शरीर के लिए बहुत ही सेहतमंद और जरूरी है क्योंकि सादा भोजन को तोड़ने के लिए जिगर या पेट को अधिक मेहनत करनी पड़ती है।डाइटिंग के लिए एक सरल दृष्टिकोण रखने के साथ बहुत अधिक मसालेदार खाना नहीं करना उन लोगों के लिए भी सबसे अच्छा है, जिन्हें स्वास्थ्य समस्याएं हैं या जो लोग बीमारी से उबरने रहे है।

1- पहला दिन, Day One
वजन घटाने चार्ट के अपने पहले दिन को केवल फलों के लिए आज़माएं और समर्पित करें।आप केवल फल खा सकते हैं और आप केले को छोड़कर किसी भी फल को खा सकते हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि शरीर सभी विषाक्त पदार्थों को बाहर निकाल देगा और यकृत को इस तरह काम करना चाहिए।

  • नाश्ता: पानी का गिलास, सेब, जामुन
  • दोपहर का भोजन: संतरे, आड़ू और जुनून फल
  • रात का खाना: सेब के साथ बेरी मिक्स

2- दूसरा दिन, Day TWO
दूसरे दिन साग बारे में है। इसमें बिना किसी अपवाद के केवल सब्जियां शामिल होनी चाहिए। आप आलू, ब्रोकली, पालक और किसी भी तरह की सब्जी जो आप चाहते हैं, खाएं।

  • नाश्ता: आलू का सलाद
  • दोपहर का भोजन: शतावरी और ब्रोकोली
  • रात का खाना: ग्रीन स्मूदी

3- तीसरा दिन, Day Three
आप आलू या केले को छोड़कर, इस दिन दिन सब्जियां और फल दोनों खा सकते हैं।

  • नाश्ता: हरी स्मूदी और सेब
  • दोपहर का भोजन: कटा हुआ प्याज और टमाटर और हरी सलाद
  • रात का खाना: जामुन और ब्रोकोली

4- चौथे दिन, Day Four
चौथे दिन केले, दूध, दही, जई और खीरे का उपयोग किया जा सकता है। तो आप दिन भर इन खाद्य पदार्थों में से जो भी आपको पसंद हो खा सकते है।

5- पांचवें दिन, Day Five 
टमाटर और खिचड़ी पांचवे दिन का डाइट भोजन है। यह पेट को चावल और टमाटर को मेटाबोलाइज करने के लिए प्रोत्साहित करता है।आप अपनी मर्जी से जो भी कर सकते हैं, करें। आप दिन में खिचड़ी और टमाटर का सलाद खा सकते हैं।

6- छठा दिन, Day six
आज की आहार योजना चावल और सब्जियां की हैं। इसका पालन करने का एक लोकप्रिय तरीका चावल और सब्जियों के साथ स्टू बनाना और दिन के दौरान कुछ हार्ड सब्जियों के साथ नाश्ता करना है।

7- सातवां दिन, Day seven
सातवें और अंतिम दिन – आज की आहार योजना चावल , सब्जियों और फलों का रस है। इसका पालन करने का एक लोकप्रिय तरीका चावल और सब्जियों के साथ स्टू बनाना और दिन के वक्त फलों का रस पी सकते है।

सादे खाने का निष्कर्ष
कई लोग सादे खाने को इसकी सादेपन के लिए इस आहार की आलोचना करते हैं, लेकिन यह आहार की असली शक्ति है। पूरी अवधारणा आपके द्वारा खाए जाने के तरीके और आपके सहिष्णुता के स्तर को बनाए रखने के माध्यम से मापने पर आधारित है।यह आहार आपके डाइट प्लान को पालन करने में बहुत आसान बनाता है और इसे तैयार करना और भी आसान है क्योंकि पहली बार में आपको बहुत सारी सामग्री की आवश्यकता नहीं होती है।

तेजी से मोटापा घटाने के बाबा रामदेव के योग और व्यायाम
1- कपालभाति प्राणायाम से घटाएं मोटापा –जो लोग मोटापे से परेशान हैं उन्हें रेग्युलर सुबह शाम 30-30 मिनट कपालभाति प्राणायाम करना चाहिए।इससे पेट और बॉडी की मसल्स ट्यून होती है। मोटापा घटता है।कपालभाती करने से कृमि रोग, एसिडिटी और पुराना बलगम दूर हो जाता है।
2- स्तपादासन – यह आसन हमें पेट की चर्बी को कम करने में मदद करता है, रीढ़ की हड्डी को मजबूत करता है पेट के अंगों को सक्रिय करता है।
3- एक्यूप्रेशर से घटाएं मोटापा –  अंगूठे के नीचे हथेली में 2-2 मिनट दबाएं। मोटापे के साथ ही थाइरॉयड की प्रॉब्लम में फायदा होगा।
4- सूर्य नमस्कार से घटेगा मोटापा – रेग्युलर जॉगिंग और सूर्य नमस्कार करें।पेट के आसपास की चर्बी तेजी से कम होगी। सामान्य से तेज गति से सूर्य नमस्कार करना एक अच्छा कार्डियो व्यायाम है जो वजन कम करने में मदद कर सकता है। इसके आसन आपके पेट की मांसपेशियों को खींचने में मदद करते हैं जिससे आप पेट के आसपास अतिरिक्त वजन को हटा सकते हैं।
5- रनिंग और स्विमिंग से घटेगा मोटापा –अगर आप यंग हैं तो रनिंग और स्विमिंग करें या तेज चाल से वॉक करें। ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होगा। बॉडी में जमा एक्स्ट्रा फैट बर्न होगा।

मोटापा घटाने के बाबा रामदेव की आयुर्वेदिक औषधि
योग और एक्सरसाइज के साथ ही सही डाइट और आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियों का कॉम्बिनेशन काफी इफेक्टिव माना जाता है। योग गुरु बाबा रामदेव भी तेजी से वजन घटाने के लिए इन्हीं चीजों की सलाह देते हैं।

  • 2-2 गोली मेदोहर वटी और 1-1 गोली त्रिफला गुग्गुल सुबह-शाम खाएं।
  • शरीर में सूजन या वाटर रिटेंशन(पानी जमा) होने के कारण मोटापे की प्रॉब्लम है तो पुनर्नवादि मंडूर का सेवन करें।
  • लौकी का जूस पिएं और अश्वगंधा के पत्ते चबाएं। ध्यान रखें लौकी कड़वी न हो।
  • अश्वगंधा के 3-3 पत्ते सुबह दोपहर और शाम को हाथ में मसलकर और चबाकर खाएं।
  • सुबह शाम 3-5 चम्मच गोमूत्र का अर्क खाली पेट गर्म पानी मिलाकर पिएं।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

सवाल – इस वेट लॉस डाइट से कितना वज़न घटाया जा सकता है?
जवाब – अगर हमारे डाइट चार्ट को 4 सप्ताह तक ईमानदारी से अमल में लाया जाए, तो पांच किलो तक वज़न घटाया जा सकता है।

सवाल – क्या चीनी या दूध वाली चाय पी सकते हैं?
जवाब –नहीं, दूध और चीनी से चाय के लाभकारी गुण खत्म हो जाते हैं। इसलिए, आपको बिना चीनी-दूध वाली चाय पीने की सलाह दी जाती है।

सवाल – वज़न घटाने के लिए खाना पकाने में किस तेल का कितनी मात्रा में इस्तेमाल करना चाहिए?
जवाब –वज़न घटाने की इच्छा रखने वाले लोगों को खाना पकाने के लिए ऑलिव ऑयल, नारियल तेल, राइस ब्रान ऑयल या सरसों तेल में से किसी एक का इस्तेमाल करना चाहिए। आपको एक दिन में खाना पकाने के लिए तीन या चार चम्मच से ज़्यादा तेल का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। हालांकि, एक्सट्रा वर्जिन ऑलिव ऑयल (extra virgin olive oil) का इस्तेमाल करने वाले लोग एक दिन में 6-7 चम्मच तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं।

सवाल – अगर मीठी चीज़ खाने का मन करे, तो क्या करना चाहिए?
जवाब –ऐसा होने पर इनमें कोई एक नुस्खा आज़माकर देखें :

  • घर पर बनाई गई कोई मीठी चीज़ खाएं, क्योंकि उसमें आमतौर पर बाज़ार की तुलना में कम चीनी का इस्तेमाल होता है।
  • एक डार्क चॉकलेट का टुकड़ा खाएं।
  • भोजन करने के बाद थोड़े फलों का सेवन करें।
  • भोजन करने के बाद लौंग चबाएं।

Disclaimer – हमारा एकमात्र उद्देश्य यह सुनिश्चित करना है कि पाठको सटीक और भरोसेमंद जानकारी मिले. हालांकि, इसमें दी गई जानकारी को एक योग्य चिकित्सक की सलाह के विकल्प के रूप में उपयोग नहीं किया जाना चाहिए. यहां दी गई जानकारी केवल सूचना के उद्देश्यों के लिए है यह सभी संभावित दुष्प्रभावों, चेतावनी या अलर्ट को कवर नहीं कर सकता है. कृपया अपने चिकित्सक से परामर्श करें और किसी भी बीमारी या दवा से संबंधित अपने सभी प्रश्नों पर चर्चा करें. हमारा मकसद सिर्फ जानकारी देना है.

मोटापा कम करने के लिए डाइट चार्ट, वजन घटाने के लिए डाइट चार्ट, बाबा रामदेव वेट लॉस डाइट चार्ट इन हिंदी, वेट लॉस डाइट चार्ट, वजन और मोटापा कम करने के लिए डाइट चार्ट, मोटापा कम करने की डाइट, मोटापा डाइट चार्ट, वजन कम करने के लिए भोजन, पुरुषो और महिलाओं के लिए डाइट चार्ट, Motapa Kam Karne Ke Upay In Hindi, Motapa Kam Karne Ke Liye Diet Plan in Hindi, Weight Loss Diet Chart in Hindi

स्वास्थ्य से सम्बंधित आर्टिकल्स – 

बीकासूल कैप्सूल खाने से क्या फायदे होते हैं, बिकासुल कैप्सूल के लाभ, Becosules Capsules Uses in Hindi, बेकासूल, बीकोस्यूल्स कैप्सूल

शराब छुड़ाने की आयुर्वेदिक दवा , होम्योपैथी में शराब छुड़ाने की दवा, शराब छुड़ाने के लिए घरेलू नुस्खे , शराब छुड़ाने का मंत्र , शराब छुड़ाने के लिए योग

कॉम्बिफ्लेम टेबलेट की जानकारी इन हिंदी, कॉम्बिफ्लेम टेबलेट किस काम आती है, Combiflam Tablet Uses in Hindi, Combiflam Syrup Uses in Hindi

अनवांटेड किट खाने के कितने दिन बाद ब्लीडिंग होती है, अनवांटेड किट खाने की विधि Hindi, अनवांटेड किट ब्लीडिंग टाइम, अनवांटेड किट की कीमत

गर्भाशय को मजबूत कैसे करे, कमजोर गर्भाशय के लक्षण, गर्भाशय मजबूत करने के उपाय, बच्चेदानी का इलाज, बच्चेदानी कमजोर है, गर्भाशय योग

जिम करने के फायदे और नुकसान, जिम जाने से पहले क्या खाएं, जिम जाने के बाद क्या खाएं,  जिम जाने के फायदे, जिम जाने के नुकसान,  जिम से नुकसान

माला डी क्या है, Mala D Tablet Uses in Hindi, माला डी कैसे काम करती है, Maladi Tablet, माला डी गोली कब लेनी चाहिए

Unienzyme Tablet Uses in Hindi, Unienzyme गोली, यूनिएंजाइम की जानकारी, यूनिएंजाइम के लाभ, यूनिएंजाइम के फायदे,यूनिएंजाइम का उपयोग

मानसिक डर का इलाज, फोबिया का उपचार, डर के लक्षण कारण इलाज दवा उपचार और परहेज, डर लगना, मानसिक डर का इलाज, मन में डर लगना

हिंदी बीपी, उच्च रक्तचाप के लिए आहार, High Blood Pressure Diet in Hindi, हाई ब्लड प्रेशर में क्या नहीं खाना चाहिए, हाई ब्लड प्रेशर डाइट

क्या थायराइड लाइलाज है, थ्रेड का इलाज, थायराइड क्‍या है, थायराइड के लक्षण कारण उपचार इलाज परहेज दवा,  थायराइड का आयुर्वेदिक

मोटापा कम करने के लिए डाइट चार्ट, वजन घटाने के लिए डाइट चार्ट, बाबा रामदेव वेट लॉस डाइट चार्ट इन हिंदी, वेट लॉस डाइट चार्ट

हाई ब्लड प्रेशर के लक्षण और उपचार, हाई ब्लड प्रेशर, बीपी हाई होने के कारण इन हिंदी, हाई ब्लड प्रेशर १६० ओवर ११०, बीपी हाई होने के लक्षण

खाना खाने के बाद पेट में भारीपन, पेट में भारीपन के लक्षण, पतंजलि गैस की दवा, पेट का भारीपन कैसे दूर करे, पेट में भारीपन का कारण

योग क्या है?, Yoga Kya Hai, योग के लाभ, योग के उद्देश्य, योग के प्रकार, योग का महत्व क्या है, योग का लक्ष्य क्या है, पेट कम करने के लिए योगासन, पेट की चर्बी कम करने के लिए बेस्‍ट योगासन