जीरे के फायदे और नुकसान, Jeera Khane Se Kya Hota Hai, Cumin Seeds in Hindi, जीरा और शहद के फायदे, Cumin Powder in Hindi, कच्चा जीरा खाने के फायदे और नुकसान, Jeera Ke Fayde, Jeera Ke Nuksan, कच्चा जीरा खाने के फायदे, Jeera Ke Fayde Aur Nuksan, Jeera Khane Ke Nuksan, Jeera Khane Ke Fayde Aur Nuksan, जीरा के नुकसान, जीरा खाने का सही तरीका क्या होता है, Health Benefits of Cumin Seeds in Hindi, Jeera Ke Side Effects

जीरे के फायदे और नुकसान, Jeera Khane Se Kya Hota Hai
हम सभी रोजाना किसी न किसी रूप में जीरे (Cumin in Hindi) का सेवन करते हैं. शायद ही कोई सब्जी ऐसी होगी जिसे हम जीरे के बिना बनाते हों. किसी भी सब्जी को बनाने से पहले उसमें जीरे का छौंक जरूर लगाया जाता है. लेकिन क्या आप जानते हैं की जीरे में कई ऐसे औषधीय गुण पाएं जाते हैं जिसके सेवन मात्र से आप अपनी कई स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं से छुटकारा पा सकते हैं. Health Benefits of Jeera Cumin Seeds in Hindi
जी हां, आयुर्वेद में जीरा को एक बहुत ही फायदेमंद औषधि बताया गया है, और जीरा अनेक रोगों की रोकथाम करने में मददगार साबित हो सकता है. तो फिर देर किस बात की आइए जानते हैं इसके औषधीय गुणों के बारे में –

1- पाचन को सुधारता है
जीरे में पाचन तंत्र को बेहतर बनाने की अचूक शक्ति होती है. अपने थायमॉल कम्पाउंड और दूसरे महत्वपूर्ण ऑयल्स के चलते जीरा सैलिवरी ग्लैंड्स को प्रोत्साहित करता है, जिससे पाचन सुधरता है. यदि आपको भी अपच की शिकायत हो तो दिन में तीन बार जीरा चाय पिएं.
उपयोग विधि:  1 कप पानी लें और उसमें १ टेबलस्पून जीरा डालें. पानी को उबालें. उसके बाद छानकर पिएं. ऐसा दिन में तीन बार करें.

2- कब्ज़ दूर रखता है, जीरा और शहद के फायदे
जीरा आपके गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल ट्रैक की गतिविधियों को पटरी पर लौटाता है, वजह है इसमें मौजूद फ़ाइबर की  मात्रा. अत: यह एन्जाइम्स के स्राव को भी प्रोत्साहित करता है. यही कारण है कि जीरा प्राकृतिक लैक्सेटिव के रूप में इस्तेमाल किया जाता है. अपने इस गुण के कारण जीरा पुराने कब्ज़ और यहां तक कि पाइल्स को भी ठीक करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है.
उपयोग विधि: कब्ज़ से छुटकारा पाने के लिए एक टेबलस्पून जीरा गहरा भूरा होने तक भूनें. फिर उन्हें बारीक़ पीस लें. इस पाउडर को पानी और शहद में मिलाकर प्रतिदिन ख़ाली पेट खाएं.

3- दमा और सर्दी से राहत पहुंचाता है
अपने ऐंटी-बैक्टीरियल और ऐंटी-इन्फ़्लेमैटरी गुणों के चलते जीरा सर्दी-ख़ासी के लिए इस्तेमाल होनेवाले घरेलू नुस्ख़ों में अपनी ख़ास जगह रखता है. जीरा के घटक मसल्स की सूजन को कम करते हैं और इन्फ़ेक्शन्स से लड़ने के लिए आपकी रोगप्रतिरोधक क्षमता को बढ़ा देते हैं.
उपयोग विधि:  एक ग्लास पानी में एक टेबलस्पून जीरा डालें. उसे उबालें. फिर उसमें थोड़ा-सा कटा हुआ अदरक डालें. ठीक से उबालें. इसे छानें और दिन में दो से तीन बार इसका सेवन करें.

4- गर्भवती महिलाओं के लिए है फ़ायदेमंद
गर्भवती महिलाओं के लिए जीरा रामबाण जैसा है. यह कब्ज़ कम करता है, जिससे गर्भवती महिला का हाज़मा भी सुधरता है. जी मिचलाने जैसे प्रेग्नेंसी के लक्षणों को भी कम करता है.
सेवन की विधि: एक ग्लास गर्म दूध लें. उसमें आधा टेबलस्पून जीरा पाउडर और एक टेबलस्पून शहद डालें. ठीक से मिला लें. यह नुस्ख़ा नियमित रूप से आज़माएं.

 5- इन्सोम्निया में है कारगर
यदि आपको रातों को ठीक से नींद नहीं आती तो जीरा से मदद मिल सकती है. इसमें मेलाटोनिन नामक एक कम्पाउंड होता है, जिसका सेवन मैश किए हुए केले के साथ करने से शरीर में नींद लानेवाले कैमिकल का निर्माण होता है.
उपयोग विधि:  आधा टेबलस्पून जीरा पाउडर, 1 टेबलस्पून मैश किए हुए केले के साथ मिलाएं. रात को सोने से पहले इस पेस्ट का सेवन करें. बिस्तर पर पड़ते ही नींद आपको अपने आगोश में ले लेगी.

6- बाल बनते हैं लंबे, घने और चमकीले
जीरा आपको लंबे, घने और चमकीले बाल देने में भी मददगार है. ये आपके बालों की अनेक समस्याओं को दूर कर आपको मजबूत व सेहतमंद बाल देता है.
उपयोग विधि: 150 से 200 मिली पानी, 1 टेबलस्पून जीरा पाउडर और 1 अंडे की सफ़ेदी लें. इन सभी को मिलाकर स्मूद पेस्ट बना लें. अब इस पेस्ट को बालों पर लगाकर सूखने दें. सूखने का बाद इसे पानी से धो लें. बेहतर नतीजे के लिए आप यह प्रक्रिया हफ़्ते में या दो हफ़्ते में एक बार दोहराएं.

7- त्वचा बनती है चमकदार
जीरे से आपके चेहरे पर निखार भी आता है. इसके इस्तेमाल से आप दाग धब्बों से रहित चेहरा पा सकती हैं. शहद और जीरा से बनाया हुआ फ़ेस पैक न केवल आपकी त्वचा को नई दमक देता है, बल्कि उसे मुलायम भी बनाता है. शहद त्वचा की सूजन को दूर करता है और जीरा उसे नम बनाता है. इस पैक को धोने के बाद चेहरे पर थोड़ा जोजोबा ऑयल लगाएं.
उपयोग विधि: यह मास्क बनाने के लिए 1/4 टेबलस्पून हल्दी पाउडर, आधा टेबलस्पून जीरा पाउडर और 1 टेबलस्पून शहद अच्छे से मिलाएं. यह मास्क लगाने के बाद 10 मिनट तक सूखने दें. उसके बाद गर्म पानी से धो लें. आप इस फ़ेस पैक का इस्तेमाल हफ़्ते में तो या तीन बार कर सकते हैं.

8- कच्चा जीरा खाने के फायदे और नुकसान, कच्चा जीरा खाने के फायदे
कच्चा जीरा खाने के भी कुछ फायदे हैं. कच्चा जीरा शरीर में खून की कमी को दूर करने में बहुत फायदेमंद होता है। जीरा आयरन का एक बेहतर स्त्रोत है। चुटकी भर कच्चा जीरा खाने से एसीडिटी में भी फायदा मिलता है और आप हल्का महशूष करते है।
कच्चा जीरा खाने के नुकसान- कच्चा जीरा का अत्यधिक सेवन कुछ साइड-इफेक्ट्स का कारण भी बन जाता है। जीरे के अधिक इस्तेमाल से लीवर खराब होने की संभावना बन जाती है।

जीरा खाने का सही तरीका क्या होता है ? , Jeera Khane Ka Sahi Tarika Kya Hai in Hindi
1- जीरा को पानी में अच्छी तरह से उबालकर चाय के रूप में किया जाता है।
2- जीरा का उपयोग सुप, अचार, सॉस बनाने के लिए किया जाता है जो इन सब का टेस्ट बड़ा देता है।
3- हमारे घरो में दाल रोजाना पकाई जाती है जीरे का उपयोग तड़के के लिए किया जाता है। और जीरा का उपयोग चिकन का स्वाद बढ़ाने के लिए भूनकर उपयोग में लाया जाता है।
4- जीरे को सब्जी व चावल में डालकर उपयोग किया जाता है। जीरा में घी मिलाकर चावल को बनाते है जिसे जीरा चावल बोलते है।

जीरा के नुकसान क्या है, Jeere Ke Kya Nuksan Hai
जीरा खाने के बहुत फायदे है पर अत्यधिक उपयोग करने से जीरे के नुकसान भी हो सकता है। जीरा भारतीय भोजन का अहम हिस्सा है जो भोजन में उपयोग किया जाता है। लेकिन जीरा का अत्यधिक उपयोग नुकसानदायक हो सकता है।
1- जीरे का अधिक सेवन करने से पाचन संबंधित समस्या हार्टबर्न का हो सकता है।
2- गर्भवती महिलाओ को जीरे का सेवन कम करना चाहिए। जीरे का अधिक सेवन भ्रूण को नुकसान पंहुचा सकता है।

जीरे के फायदे और नुकसान, Jeera Khane Se Kya Hota Hai, Cumin Seeds in Hindi, जीरा और शहद के फायदे, Cumin Powder in Hindi, कच्चा जीरा खाने के फायदे और नुकसान, Jeera Ke Fayde, Jeera Ke Nuksan, कच्चा जीरा खाने के फायदे, Jeera Ke Fayde Aur Nuksan, Jeera Khane Ke Nuksan, Jeera Khane Ke Fayde Aur Nuksan, जीरा के नुकसान, जीरा खाने का सही तरीका क्या होता है, Health Benefits of Cumin Seeds in Hindi, Jeera Ke Side Effects

स्वास्थ्य से सम्बंधित आर्टिकल्स – 

  1. बीकासूल कैप्सूल खाने से क्या फायदे होते हैं, बिकासुल कैप्सूल के लाभ, Becosules Capsules Uses in Hindi, बेकासूल, बीकोस्यूल्स कैप्सूल
  2. शराब छुड़ाने की आयुर्वेदिक दवा , होम्योपैथी में शराब छुड़ाने की दवा, शराब छुड़ाने के लिए घरेलू नुस्खे , शराब छुड़ाने का मंत्र , शराब छुड़ाने के लिए योग
  3. कॉम्बिफ्लेम टेबलेट की जानकारी इन हिंदी, कॉम्बिफ्लेम टेबलेट किस काम आती है, Combiflam Tablet Uses in Hindi, Combiflam Syrup Uses in Hindi
  4. अनवांटेड किट खाने के कितने दिन बाद ब्लीडिंग होती है, अनवांटेड किट खाने की विधि Hindi, अनवांटेड किट ब्लीडिंग टाइम, अनवांटेड किट की कीमत
  5. गर्भाशय को मजबूत कैसे करे, कमजोर गर्भाशय के लक्षण, गर्भाशय मजबूत करने के उपाय, बच्चेदानी का इलाज, बच्चेदानी कमजोर है, गर्भाशय योग
  6. जिम करने के फायदे और नुकसान, जिम जाने से पहले क्या खाएं, जिम जाने के बाद क्या खाएं,  जिम जाने के फायदे, जिम जाने के नुकसान,  जिम से नुकसान
  7. माला डी क्या है, Mala D Tablet Uses in Hindi, माला डी कैसे काम करती है, Maladi Tablet, माला डी गोली कब लेनी चाहिए
  8. Unienzyme Tablet Uses in Hindi, Unienzyme गोली, यूनिएंजाइम की जानकारी, यूनिएंजाइम के लाभ, यूनिएंजाइम के फायदे,यूनिएंजाइम का उपयोग
  9. मानसिक डर का इलाज, फोबिया का उपचार, डर के लक्षण कारण इलाज दवा उपचार और परहेज, डर लगना, मानसिक डर का इलाज, मन में डर लगना
  10. हिंदी बीपी, उच्च रक्तचाप के लिए आहार, High Blood Pressure Diet in Hindi, हाई ब्लड प्रेशर में क्या नहीं खाना चाहिए, हाई ब्लड प्रेशर डाइट
  11. क्या थायराइड लाइलाज है, थ्रेड का इलाज, थायराइड क्‍या है, थायराइड के लक्षण कारण उपचार इलाज परहेज दवा,  थायराइड का आयुर्वेदिक
  12. मोटापा कम करने के लिए डाइट चार्ट, वजन घटाने के लिए डाइट चार्ट, बाबा रामदेव वेट लॉस डाइट चार्ट इन हिंदी, वेट लॉस डाइट चार्ट
  13. हाई ब्लड प्रेशर के लक्षण और उपचार, हाई ब्लड प्रेशर, बीपी हाई होने के कारण इन हिंदी, हाई ब्लड प्रेशर १६० ओवर ११०, बीपी हाई होने के लक्षण
  14. खाना खाने के बाद पेट में भारीपन, पेट में भारीपन के लक्षण, पतंजलि गैस की दवा, पेट का भारीपन कैसे दूर करे, पेट में भारीपन का कारण
  15. योग क्या है?, Yoga Kya Hai, योग के लाभ, योग के उद्देश्य, योग के प्रकार, योग का महत्व क्या है, योग का लक्ष्य क्या है, पेट कम करने के लिए योगासन, पेट की चर्बी कम करने के लिए बेस्‍ट योगासन