दालचीनी के फायदे, दालचीनी और शहद के फायदे इन हिंदी, Dalchini for Weight Loss in Hindi, Dalchini Aur Shahad Ke Fayde, Dalchini Ki Taseer, दालचीनी की चाय के फायदे, दालचीनी के नुकसान, Dalchini Ke Fayde, Dalchini Benefits, Dalchini Kaise Khaye, Dalchini Ke Nuksan

शहद और दालचीनी खाएं, वजन घटाएं ( सिनेमन ) – आज की जीवनशैली के चलते ज्यादातर लोगों में वजन बढ़ने की समस्या जन्म ले रही है. आज हर कोई स्लिम व फिट रहना चाहता है. फिट होना न केवल स्वास्थ्य के लिए बल्क‍ि आकर्षक व्यक्त‍ित्व के लिए भी बेहद जरूरी है. अपने बढ़े हुए वजन के चलते कई लोग शर्मिंदगी भी महसूस करते हैं, ऐसे में लोग वजन घटाने के लिए क्या कुछ नहीं करते. कुछ जिम का सहारा लेते हैं, कुछ योग अपनाते हैं, कुछ लोग डाइटिंग करते हैं तो कुछ दवाइयों पर भरोसा करते हैं. पर वजन कम हो जाना कोई जादू तो है नहीं.

इसलिए आज हम आपके लिए कुछ घरेलू उपाय लेकर आए हैं, जिसे अपनाने के बाद आपका फिट और स्लिम होने का सपना पूरा हो जाएगा. जी हां. आपके किचन के मसाले के डिब्बे में छिपा है मोटापे का समाधान. एक नए शोध के मुताबिक़ खानपान में दालचीनी शामिल करनेवालों का एक्स्ट्रा वज़न तेज़ी से कम होता है. दालचीनी का सेवन कोलेस्ट्रॉल के स्तर को भी कम करने का काम करता है.

एक क्लीनिकल ट्रायल में 116 महिलाओं और पुरुषों को शामिल किया गया. ये सभी मोटापा, ख़ासतौर पर पेट के आसपास की चर्बी, ग्लूकोज सहनशीलता के बिगड़ते स्तर, ट्राइग्लिसराइड के बढ़े हुए स्तर और हाइपरटेंशन की समस्या से पीड़ित थे. डायट में बदलाव करने के साथ ही ट्रायल में शामिल लोगों को हर दिन 45 मिनट के लिए ब्रिस्क वॉक भी करवाया जाता था. जिन लोगों ने 16 हफ़्ते तक हर दिन 3 ग्राम दालचीनी पाउडर का सेवन किया, उनके औसत वज़न में 4 किलोग्राम की कमी आई.

इसके उलट जिन लोगों को दालचीनी नहीं दी गई, उनके वज़न में औसतन केवल १ किलोग्राम की कमी आई. यानी हर दिन क़रीब 3 ग्राम दालचीनी पाउडर का सेवन करने से न सिर्फ़ आपका मोटापा कम होगा, बल्कि मेटाबॉलिज़म से जुड़ी बीमारियां भी नियंत्रित रहेंगी. भारतीयों पर की गई यह अपनी तरह की पहली रिसर्च है, जिसे इंटरनैशनल जरनल लिपिड्स इन हेल्थ ऐंड डिज़ीज़ में प्रकाशित किया गया है.

शोधकर्ताओं का कहना है कि डायट में दालचीनी पाउडर शामिल करने के साथ ही शारीरिक व्यायाम करने से ब्लड ग्लूकोज, ग्लाइकोस्लेटेड हीमोग्लोबिन, कमर का दायरा और बॉडी मास इंडेक्स में कमी आती है. बहरहाल इस रिसर्च के जरिए आशाजनक नतीजे मिले हैं, जो इस बात को साबित करते हैं कि बेहद सामान्य भोज्य पदार्थ से भी हमारी सेहत को काफ़ी फ़ायदा हो सकता है. दालचीनी एक आम मसाला है, जो भारतीय खानपान में काफ़ी इस्तेमाल किया जाता है.

आप दालचीनी और शहद को इन तरीकों से इस्तेमाल कर कुछ ही दिनों में बेहद आसानी से वजन घटा सकते हैं, शहद में मिलने वाला फ्रक्टोज वजन घटाने में सहायक होने के साथ ही ऊर्जा के स्तर को भी बरकरार रखता है. यह अतिरिक्त चर्बी को घटाने में मददगार हॉर्मोन्स की मात्रा को बढ़ा देता है. 

कैसे करें इस्तेमाल
1. शहद और दालचीनी
शहद और दालचीनी को एक साथ इस्तेमाल में लाकर भी वजन घटाया जा सकता है. दालचीनी को बारीक पीस लें और इसे शहद में मिलाकर खाएं. हर रोज एक चम्मच ये पेस्ट खाने से कुछ ही दिनों में परिणाम नजर आने लगेंगे.

3.  शहद, दालचीनी और ग्रीन टी
वजन कम करने के लिए बहुत से लोग ग्रीन टी पर भरोसा करते हैं. इसे शहद और दालचीनी के साथ मिलकार पीने से इसके फायदे दोगुने हो जाते हैं. आप हर रोज इसे खाली पेट ले सकते हैं.

4.शहद, दालचीनी और नींबू का रस
वजन कम करने के लिए नींबू का रस भी काफी कारगर है. नींबू के रस को दालचीनी और शहद के साथ मिलाकर इस्तेमाल में लाने से दोगुना फायदा होता है. वजन कम करने के साथ ही यह कोलेस्ट्रॉल के स्तर को भी संतुलित रखने में मददगार होता है. how to lose weight using honey and cinnamon

5. शहद, दालचीनी और पानी
वजन कम करने के लिए आप शहद, दालचीनी और पानी का इस्तेमाल कर सकते हैं. यह बेहद आसान और कारगर उपाय है. उबले हुए पानी में समान मात्रा में दालचीनी और शहद डालकर इसे अच्छी तरह मिला लें. इस पेय को खाली पेट पीने से कुछ ही दिनों में आपको फर्क दिखना शुरू हो जाएगा.

दालचीनी की तासीर क्या है ? 
दालचीनी के बहुत फायदे है और दालचीनी की तासीर गर्म होती है, इसलिए दालचीनी का उपयोग सर्दियों में होने वाले सर्दी-जुकाम के साथ ही पेट की चर्बी, वजन घटाने और डायबिटीज जैसी गंभीर बीमारियों में इसका सेवन करना बेहद फायदेमंद रहती है। दालचीनी का उपयोग सर्दियों में जयादा किया जाता है। दालचीनी का उपयोग किसी भी मौसम मै कर सकते है , इसका उपयोग बहुत जयादा नहीं करना चाहिए।

दालचीनी के नुकसान, Dalchini Ke Nusan 
1- अगर आप दालचीनी का अधिक मात्रा में सेवन करते है तो सिर में दर्द (Dalchini ke nukshan) की शिकायत हो सकती है।
2- गर्भवती महिलाओं के लिए दालचीनी सही नहीं होता। दालचीनी गर्भवती स्त्रियों को नहीं देनी चाहिए, क्योंकि यह गर्भ को गिरा देती है।
3- दालचीनी को गर्भाशय में भी रखने से भी गर्भ गिर जाता है।
4- दालचीनी के नुकसान से बचने के लिए इसका इस्तेमाल से पहले चिकित्सक से सलाह जरूर लें।

दालचीनी के फायदे, दालचीनी और शहद के फायदे इन हिंदी, Dalchini for Weight Loss in Hindi, Dalchini Aur Shahad Ke Fayde, Dalchini Ki Taseer, दालचीनी की चाय के फायदे, दालचीनी के नुकसान, Dalchini Ke Fayde, Dalchini Benefits, Dalchini Kaise Khaye, Dalchini Ke Nuksan

स्वास्थ्य से सम्बंधित आर्टिकल्स – 

  1. बीकासूल कैप्सूल खाने से क्या फायदे होते हैं, बिकासुल कैप्सूल के लाभ, Becosules Capsules Uses in Hindi, बेकासूल, बीकोस्यूल्स कैप्सूल
  2. शराब छुड़ाने की आयुर्वेदिक दवा , होम्योपैथी में शराब छुड़ाने की दवा, शराब छुड़ाने के लिए घरेलू नुस्खे , शराब छुड़ाने का मंत्र , शराब छुड़ाने के लिए योग
  3. कॉम्बिफ्लेम टेबलेट की जानकारी इन हिंदी, कॉम्बिफ्लेम टेबलेट किस काम आती है, Combiflam Tablet Uses in Hindi, Combiflam Syrup Uses in Hindi
  4. अनवांटेड किट खाने के कितने दिन बाद ब्लीडिंग होती है, अनवांटेड किट खाने की विधि Hindi, अनवांटेड किट ब्लीडिंग टाइम, अनवांटेड किट की कीमत
  5. गर्भाशय को मजबूत कैसे करे, कमजोर गर्भाशय के लक्षण, गर्भाशय मजबूत करने के उपाय, बच्चेदानी का इलाज, बच्चेदानी कमजोर है, गर्भाशय योग
  6. जिम करने के फायदे और नुकसान, जिम जाने से पहले क्या खाएं, जिम जाने के बाद क्या खाएं,  जिम जाने के फायदे, जिम जाने के नुकसान,  जिम से नुकसान
  7. माला डी क्या है, Mala D Tablet Uses in Hindi, माला डी कैसे काम करती है, Maladi Tablet, माला डी गोली कब लेनी चाहिए
  8. Unienzyme Tablet Uses in Hindi, Unienzyme गोली, यूनिएंजाइम की जानकारी, यूनिएंजाइम के लाभ, यूनिएंजाइम के फायदे,यूनिएंजाइम का उपयोग
  9. मानसिक डर का इलाज, फोबिया का उपचार, डर के लक्षण कारण इलाज दवा उपचार और परहेज, डर लगना, मानसिक डर का इलाज, मन में डर लगना
  10. हिंदी बीपी, उच्च रक्तचाप के लिए आहार, High Blood Pressure Diet in Hindi, हाई ब्लड प्रेशर में क्या नहीं खाना चाहिए, हाई ब्लड प्रेशर डाइट
  11. क्या थायराइड लाइलाज है, थ्रेड का इलाज, थायराइड क्‍या है, थायराइड के लक्षण कारण उपचार इलाज परहेज दवा,  थायराइड का आयुर्वेदिक
  12. मोटापा कम करने के लिए डाइट चार्ट, वजन घटाने के लिए डाइट चार्ट, बाबा रामदेव वेट लॉस डाइट चार्ट इन हिंदी, वेट लॉस डाइट चार्ट
  13. हाई ब्लड प्रेशर के लक्षण और उपचार, हाई ब्लड प्रेशर, बीपी हाई होने के कारण इन हिंदी, हाई ब्लड प्रेशर १६० ओवर ११०, बीपी हाई होने के लक्षण
  14. खाना खाने के बाद पेट में भारीपन, पेट में भारीपन के लक्षण, पतंजलि गैस की दवा, पेट का भारीपन कैसे दूर करे, पेट में भारीपन का कारण
  15. योग क्या है?, Yoga Kya Hai, योग के लाभ, योग के उद्देश्य, योग के प्रकार, योग का महत्व क्या है, योग का लक्ष्य क्या है, पेट कम करने के लिए योगासन, पेट की चर्बी कम करने के लिए बेस्‍ट योगासन