ठंड में शिशुओं की त्वचा की देखभाल, सर्दियों में शिशु की त्‍वचा का देखभाल, शिशु की त्‍वचा कैसे बनाएं कोमल, बेबी स्किन केयर टिप्स इन हिंदी, Winter Baby Skin Care Tips in Hindi, हाउ तो केयर बेबी स्किन इन विंटर, ठंड में बच्चों की स्किन देखभाल, Baby Ki Dry Skin Care in Hindi, Winter Skin Care Tips in Hindi, Baby Skin Care in Winter, Newborn Baby Ki Dekhbhal

ठंड में शिशुओं की त्वचा की देखभाल, सर्दियों में शिशु की त्‍वचा का देखभाल
ठंड में स्किन में खिंचाव और रुखापन आना बहुत सामान्‍य सी बात होती हैं। बड़े तो अपनी स्किन कि दिक्कत को समझ लेते हैं, लेकिन सबसे ज्‍यादा समस्‍या रहती हैं नवजात शिशुओं के साथ। नवजात शिशु इस समस्‍या को बता नहीं पाते जिसकी वजह से उन्‍हें भी खूब इर‍िटेशन होती हैं। ऐसे में मां को ठंड के मौसम में शिशुओं की त्वचा का विशेष ध्‍यान देना होगा।
ज्‍यादा रुखी स्किन के चलते बच्‍चों की स्किन में क्रैक पड़ते सकते हैं और खून भी आ सकता है। तो ऐसे में नई मां को यह जाना जरूरी है कि वे ठंड में शिशुओं के स्किन की सुरक्षा कैसे करें।
मॉश्चराइजिंग करते रहें
शिशु की वैसे तो मालिश होती रहती है, लेकिन बावजूद इसके ठंड में त्वचा तेजी से नमी खो देती है। यदि शिशु हीटर में रहता हो तो उसकी त्वचा से नमी तेजी से खोएगी। ऐसे में उसे दिन में कई बार मॉश्चाराइज करते रहें।

नहाने के पानी में डालें तेल
त्‍वचा में नमी बनाएं रखने के ल‍िए, उसके नहानें के पानी में कम से कम दो चम्मच तेल डाल दें। इससे शिशु की त्वचा नमी बनाए रखेगी। साथ ही ठंड में उसे रोज साबुन भी न लगाएं।
रात में वैसलीन लगाएं
शिशु जब रात में सोए तो उसके गालों और हाथ पर वैसलीन लगा दें। ऐसा करने से उसकी त्वचा हमेशा कोमल बनी रहेगी।
तेज ठंड और गर्मी से बचाएं
वैसे तो शिशु को मां गर्मी और ठंडी के हिसाब से कपड़े पहनाती हैं, लेकिन ठंड में जो अंग खुले रहते हैं, वहां की नमी सबसे तेजी से खोती है। यही कारण है कि नवजात शिशुओं के गाल लाल हो जाते हैं। ऐसा नमी खोने और त्वचा के खुश्क होने से होता है। इसलिए शिशु को बहुत ठंड या हीटर के करीब बिलकुल न रखें।
ज्‍यादा नहलाने से बचें
शिशुओं को ठंड के मौसम में रोज नहलाना सही नहीं है, बहुत ठंड हो तो उसे केवल वाइप करें। गर्म पानी में तौलिये को निचोड़ कर पोंछ दें। इससे उसे ठंड भी नहीं लगेगी और स्किन भी कोमल रहेगी।

ठंड में शिशुओं की त्वचा की देखभाल, सर्दियों में शिशु की त्‍वचा का देखभाल, शिशु की त्‍वचा कैसे बनाएं कोमल, बेबी स्किन केयर टिप्स इन हिंदी, Winter Baby Skin Care Tips in Hindi, हाउ तो केयर बेबी स्किन इन विंटर, ठंड में बच्चों की स्किन देखभाल, Baby Ki Dry Skin Care in Hindi, Winter Skin Care Tips in Hindi, Baby Skin Care in Winter, Newborn Baby Ki Dekhbhal

स्वास्थ्य से सम्बंधित आर्टिकल्स – 

  1. बीकासूल कैप्सूल खाने से क्या फायदे होते हैं, बिकासुल कैप्सूल के लाभ, Becosules Capsules Uses in Hindi, बेकासूल, बीकोस्यूल्स कैप्सूल
  2. शराब छुड़ाने की आयुर्वेदिक दवा , होम्योपैथी में शराब छुड़ाने की दवा, शराब छुड़ाने के लिए घरेलू नुस्खे , शराब छुड़ाने का मंत्र , शराब छुड़ाने के लिए योग
  3. कॉम्बिफ्लेम टेबलेट की जानकारी इन हिंदी, कॉम्बिफ्लेम टेबलेट किस काम आती है, Combiflam Tablet Uses in Hindi, Combiflam Syrup Uses in Hindi
  4. ज्यादा नींद आने की वजह, Jyada Nind Kyon Aati Hai, ज्यादा नींद आना के कारण, ज्यादा नींद आना, शरीर में सुस्ती, शरीर में थकावट
  5. अनवांटेड किट खाने के कितने दिन बाद ब्लीडिंग होती है, अनवांटेड किट खाने की विधि Hindi, अनवांटेड किट ब्लीडिंग टाइम, अनवांटेड किट की कीमत
  6. गर्भाशय को मजबूत कैसे करे, कमजोर गर्भाशय के लक्षण, गर्भाशय मजबूत करने के उपाय, बच्चेदानी का इलाज, बच्चेदानी कमजोर है, गर्भाशय योग
  7. जिम करने के फायदे और नुकसान, जिम जाने से पहले क्या खाएं, जिम जाने के बाद क्या खाएं,  जिम जाने के फायदे, जिम जाने के नुकसान,  जिम से नुकसान
  8. माला डी क्या है, Mala D Tablet Uses in Hindi, माला डी कैसे काम करती है, Maladi Tablet, माला डी गोली कब लेनी चाहिए
  9. Unienzyme Tablet Uses in Hindi, Unienzyme गोली, यूनिएंजाइम की जानकारी, यूनिएंजाइम के लाभ, यूनिएंजाइम के फायदे,यूनिएंजाइम का उपयोग
  10. मानसिक डर का इलाज, फोबिया का उपचार, डर के लक्षण कारण इलाज दवा उपचार और परहेज, डर लगना, मानसिक डर का इलाज, मन में डर लगना
  11. हिंदी बीपी, उच्च रक्तचाप के लिए आहार, High Blood Pressure Diet in Hindi, हाई ब्लड प्रेशर में क्या नहीं खाना चाहिए, हाई ब्लड प्रेशर डाइट
  12. क्या थायराइड लाइलाज है, थ्रेड का इलाज, थायराइड क्‍या है, थायराइड के लक्षण कारण उपचार इलाज परहेज दवा,  थायराइड का आयुर्वेदिक
  13. मोटापा कम करने के लिए डाइट चार्ट, वजन घटाने के लिए डाइट चार्ट, बाबा रामदेव वेट लॉस डाइट चार्ट इन हिंदी, वेट लॉस डाइट चार्ट
  14. हाई ब्लड प्रेशर के लक्षण और उपचार, हाई ब्लड प्रेशर, बीपी हाई होने के कारण इन हिंदी, हाई ब्लड प्रेशर १६० ओवर ११०, बीपी हाई होने के लक्षण
  15. खाना खाने के बाद पेट में भारीपन, पेट में भारीपन के लक्षण, पतंजलि गैस की दवा, पेट का भारीपन कैसे दूर करे, पेट में भारीपन का कारण
  16. योग क्या है?, Yoga Kya Hai, योग के लाभ, योग के उद्देश्य, योग के प्रकार, योग का महत्व क्या है, योग का लक्ष्य क्या है, पेट कम करने के लिए योगासन, पेट की चर्बी कम करने के लिए बेस्‍ट योगासन