मन्नू भंडारी की जीवनी, मन्नू भंडारी की बायोग्राफी, मन्नू भंडारी का करियर, मन्नू भंडारी की कृतियां, Mannu Bhandari Ki Jivani, Mannu Bhandari Biography In Hindi, Mannu Bhandari Career, Mannu Bhandari Works

मन्नू भंडारी की जीवनी
आज इस लेख में हम आपको भारत की एक आधुनिक कहानीकार और उपन्यासकार मन्नू भंडारी के बारें में बताने जा रहे है जिनका जन्म 3 अप्रैल 1931 को हुआ था. आपको बता दें कि मध्य प्रदेश के भानपुरा नगर में 1931 में जन्मी मन्नू भंडारी को श्रेष्ठ लेखिका होने का गौरव हासिल है. मन्नू भंडारी ने कहानी और उपन्यास दोनों विधाओं में कलम चलाई है. राजेंद्र यादव के साथ लिखा गया उनका उपन्यास एक इंच मुस्कान पढ़े-लिखे और आधुनिकता पसंद लोगों की दुखभरी प्रेमगाथा है. विवाह टूटने की त्रासदी में घुट रहे एक बच्चे को केंद्रीय विषय बनाकर लिखे गए उनके उपन्यास आपका बंटी को हिंदी के सफलतम उपन्यासों की कतार में रखा जाता है. आम आदमी की पीड़ा और दर्द की गहराई को उकेरने वाले उनके उपन्यास महाभोज पर आधारित नाटक खूब लोकप्रिय हुआ था. इनकी यही सच है कृति पर आधारित रजनीगंधा फ़िल्म ने बॉक्स ऑफिस पर खूब धूम मचाई थी.

पूरा नाम: – मन्नू भंडारी
जन्म: – 3 अप्रैल सन 1931
जन्म स्थान: – भानपुरा (मध्य प्रदेश)
पद/कार्य: – कहानीकार और उपन्यासकार

मन्नू भंडारी एक भारतीय लेखक है जो विशेषतः 1950 से 1960 के बीच अपने कार्यो के लिए जानी जाती थी. सबसे ज्यादा वह अपने दो उपन्यासों के लिए प्रसिद्ध थी, पहला आपका बंटी और दूसरा महाभोज. नयी कहानी अभियान और हिंदी साहित्यिक अभियान के समय में लेखक निर्मल वर्मा, राजेंद्र यादव, भीषम साहनी, कमलेश्वर इत्यादि ने उन्हं अभियान की सबसे प्रसिद्ध लेखिका बताया था.

1950 में भारत को आज़ादी मिले कुछ ही साल हुए थे, और उस समय भारत सामाजिक बदलाव जैसी समस्याओ से जूझ रहा था. इसीलिए इसी समय लोग नयी कहानी अभियान के चलते अपनी-अपनी राय देने लगे थे, जिनमे भंडारी भी शामिल थी. उनके लेख हमेशा लैंगिक असमानता और वर्गीय असमानता और आर्थिक असमानता पर आधारित होते थे.

नाटक बिना दीवारों का घर (१९६६) विवाह विच्छेद की त्रासदी में पिस रहे एक बच्चे को केंद्र में रखकर लिखा गया उनका उपन्यास आपका बंटी (१९७१) हिन्दी के सफलतम उपन्यासों में गिना जाता है. लेखक और पति राजेंद्र यादव के साथ लिखा गया उनका उपन्यास एक इंच मुस्कान (१९६२) पढ़े लिखे आधुनिक लोगों की एक दुखांत प्रेमकथा है जिसका एक एक अंक लेखक-द्वय ने क्रमानुसार लिखा था.

मन्नू भंडारी हिन्दी की लोकप्रिय कथाकारों में से हैं. नौकरशाही में व्याप्त भ्रष्टाचार के बीच आम आदमी की पीड़ा और दर्द की गहराई को उद्घाटित करने वाले उनके उपन्यास महाभोज (१९७९) पर आधारित नाटक अत्यधिक लोकप्रिय हुआ था. इसी प्रकार यही सच है पर आधारित रजनीगंधा नामक फिल्म अत्यंत लोकप्रिय हुई थी और उसको १९७४ की सर्वश्रेष्ठ फिल्म का पुरस्कार भी प्राप्त हुआ था इसके अतिरिक्त उन्हें हिन्दी अकादमी, दिल्ली का शिखर सम्मान, बिहार सरकार, भारतीय भाषा परिषद, कोलकाता, राजस्थान संगीत नाटक अकादमी, व्यास सम्मान और उत्तर-प्रदेश हिंदी संस्थान द्वारा पुरस्कृत.

मन्नू भंडारी का कार्यक्षेत्र
बालीगंज शिक्षा सदन (१९५२-६१), रानी बिड़ला कालेज (१९६१-६४) में अध्यापन के बाद सन् १९६४ में वे मिरांडा कालेज में हिन्दी की प्राध्यापक बनी और अवकाश प्राप्त करने (१९९१) तक कार्यरत रहीं. अवकाश प्राप्त करने के उपरांत वे दो वर्षों तक उज्जैन में प्रेमचंद सृजनपीठ की निदेशिका(१९९२-९४) रहीं.

मन्नू भंडारी ने कहानियां और उपन्यास दोनों लिखे हैं. एक प्लेट सैलाब (१९६२), मैं हार गई (१९५७), तीन निगाहों की एक तस्वीर, यही सच है (१९६६), त्रिशंकु और आंखों देखा झूठ उनके महत्त्वपूर्ण कहानी संग्रह हैं. विवाह विच्छेद की त्रासदी में पिस रहे एक बच्चे को केंद्र में रखकर लिखा गया उनका उपन्यास आपका बंटी (१९७१) हिन्दी के सफलतम उपन्यासों में गिना जाता है. लेखक राजेंद्र यादव के साथ लिखा गया उनका उपन्यास एक इंच मुस्कान (१९६२) पढ़े लिखे आधुनिक लोगों की एक दुखांत प्रेमकथा है जिसका एक एक अंक लेखक-द्वय ने क्रमानुसार लिखा था. आपने बिना दीवारों का घर (१९६६) शीर्षक से एक नाटक भी लिखा है.

मन्नू भंडारी हिन्दी की लोकप्रिय कथाकारों में से हैं. नौकरशाही में व्याप्त भ्रष्टाचार के बीच आम आदमी की पीड़ा और दर्द की गहराई को उद्घाटित करने वाले उनके उपन्यास महाभोज (१९७९) पर आधारित नाटक अत्यधिक लोकप्रिय हुआ था. इसी प्रकार यही सच है पर आधारित रजनीगंधा नामक फिल्म अत्यंत लोकप्रिय हुई थी और उसको १९७४ की सर्वश्रेष्ठ फिल्म का पुरस्कार भी प्राप्त हुआ था.

आप का बंटी फिल्म अनुकूलन के विषय में विवाद
भंडारी ने अपने दूसरे उपन्यास आप का बंटी के अधिकार बेच दिए और बाद में धर्मेंद्र गोयल द्वारा बनाई गई फिल्म के लिए और बाद में सिसिर मिश्रा द्वारा निर्देशित फिल्म के लिए अनुकूलित किया गया. इस फिल्म, समी की धारा, ने शबाना आज़मी, शत्रुघ्न सिन्हा, टीना मुनीम और विनोद मेहरा की भूमिका निभाई. भंडारी ने बाद में फिल्म निर्माता काले विकास पिक्चर्स प्राइवेट लिमिटेड को मुकदमा दायर किया कि इस अनुकूलन ने उनके उपन्यास को विकृत कर दिया और इसके परिणामस्वरूप भारतीय कॉपीराइट अधिनियम, 1 9 57 की धारा 57 का उल्लंघन किया. इस मामले में निर्णय, मनु कृष्णा बनाम कला विकास मोशन पिक्चर्स लिमिटेड भारतीय कॉपीराइट कानून में एक ऐतिहासिक निर्णय है जो भारतीय कॉपीराइट कानून के तहत लेखक के नैतिक अधिकारों के दायरे को स्पष्ट करता है. न्यायालय भंडारी के पक्ष में था, लेकिन वह और निर्माता अंततः अदालत के बाहर एक समझौते पर पहुंचे.

मन्नू भंडारी की प्रकाशित कृतियाँ
1- कहानी-संग्रह :- एक प्लेट सैलाब, मैं हार गई, तीन निगाहों की एक तस्वीर, यही सच है, त्रिशंकु, श्रेष्ठ कहानियाँ, आँखों देखा झूठ, नायक खलनायक विदूषक.
2- उपन्यास :- आपका बंटी, महाभोज, स्वामी, एक इंच मुस्कान और कलवा, एक कहानी यह भी.
3- पटकथाएँ :- रजनी, निर्मला, स्वामी, दर्पण.
4- नाटक :- बिना दीवारों का घर.

मन्नू भंडारी के पुरस्कार
1- महाभाज 1980-1981 के लिए उत्तर प्रदेश हिंदी संस्थान (उत्तर प्रदेश हिंदी संस्थान)
2- भारतीय भाषा परिषद (भारतीय भाषा परिषद), कोलकाता, 1 9 82
3- काला-कुंज सन्मान (पुरस्कार), नई दिल्ली, 1 9 82
4- भारतीय संस्कृत संसद कथा समरोह (भारतीय संस्कृत कथा कथा), कोलकाता, 1 9 83
5- बिहार राज्य भाषा परिषद (बिहार राज्य भाषा परिषद), 1991
6- राजस्थान संगीत नाटक अकादमी, 2001- 02
7- महाराष्ट्र राज्य हिंदी साहित्य अकादमी (महाराष्ट्र राज्य हिंदी साहित्य अकादमी), 2004
8- हिंदी अकादमी, दिलीली शालका सन्मैन, 2006- 07
9- मध्यप्रदेश हिंदी साहित्य सम्मेलन (मध्यप्रदेश हिंदी साहित्य सम्मेलन), भवभूति अलंकरण, 2006- 07
10- के.के. बिड़ला फाउंडेशन ने उन्हें अपने काम के लिए 18 वें व्यास सम्मान के साथ प्रस्तुत किया, एह कहानी यहे भी, एक आत्मकथात्मक उपन्यास

ये भी पढ़े –

विवेकानंद की जीवनी, स्वामी विवेकानंद का जीवन परिचय, स्वामी विवेकानंद की बायोग्राफी, Swami Vivekananda In Hindi, Swami Vivekananda Ki Jivani

शहीदे आज़म भगत सिंह की जीवनी, शहीद भगत सिंह की बायोग्राफी हिंदी में, भगत सिंह का इतिहास, भगत सिंह का जीवन परिचय, Shaheed Bhagat Singh Ki Jivani

महात्मा गांधी की जीवनी, महात्मा गांधी का जीवन परिचय, महात्मा गांधी की बायोग्राफी, महात्मा गांधी के बारे में, Mahatma Gandhi Ki Jivani

डॉ. भीम राव अम्बेडकर की जीवनी, डॉ. भीम राव अम्बेडकर का जीवन परिचय हिंदी में, डॉ. भीमराव अम्बेडकर के अनमोल विचार, Dr. B.R. Ambedkar Biography In Hindi

सुभाष चन्द्र बोस की जीवनी, सुभाष चंद्र बोस की जीवनी कहानी , नेताजी सुभाष चन्द्र बोस बायोग्राफी, सुभाष चन्द्र बोस का राजनीतिक जीवन, आजाद हिंद फौज का गठन

महादेवी वर्मा की जीवनी , महादेवी वर्मा की बायोग्राफी, महादेवी वर्मा की शिक्षा, महादेवी वर्मा का विवाह, Mahadevi Verma Ki Jivani

तानसेन की जीवनी , तानसेन की बायोग्राफी, तानसेन का करियर, तानसेन का विवाह, तानसेन की शिक्षा, Tansen Ki Jivani, Tansen Biography In Hindi

वॉरेन बफे की जीवनी, वॉरेन बफे की बायोग्राफी, वॉरेन बफे का करियर, वॉरेन बफे की पुस्तकें, वॉरेन बफे के निवेश नियम, Warren Buffet Ki Jivani, Warren Buffet Biography In Hindi

हरिवंश राय बच्चन की जीवनी, हरिवंश राय बच्चन की बायोग्राफी, हरिवंश राय बच्चन की कविताएं, हरिवंश राय बच्चन की रचनाएं, Harivansh Rai Bachchan Ki Jivani

रामधारी सिंह दिनकर की जीवनी , रामधारी सिंह दिनकर की बायोग्राफी, रामधारी सिंह दिनकर के पुरस्कार, रामधारी सिंह दिनकर की रचनाएं, Ramdhari Singh Dinkar Ki Jivani

मन्नू भंडारी की जीवनी, मन्नू भंडारी की बायोग्राफी, मन्नू भंडारी का करियर, मन्नू भंडारी की कृतियां, Mannu Bhandari Ki Jivani, Mannu Bhandari Biography In Hindi

अरविन्द घोष की जीवनी, अरविन्द घोष की बायोग्राफी, अरविन्द घोष का करियर, अरविन्द घोष की मृत्यु, Arvind Ghosh Ki Jivani, Arvind Ghosh Biography In Hindi

सम्राट अशोक की जीवनी, सम्राट अशोक की बायोग्राफी, सम्राट अशोक का शासनकाल, सम्राट अशोक की मृत्यु, Ashoka Samrat Ki Jivani, Ashoka Samrat Biography In Hindi

मिल्खा सिंह की जीवनी, मिल्खा सिंह की बायोग्राफी, मिल्खा सिंह का करियर, मिल्खा सिंह का विवाह, मिल्खा सिंह के पुरस्कार, Milkha Singh Ki Jivani, Milkha Singh Biography In Hindi

अटल बिहारी वाजपेयी की जीवनी, अटल बिहारी वाजपेयी की रचनाएं, अटल बिहारी वाजपेयी की कविताएं, Atal Bihari Vajpayee, Atal Bihari Vajpayee Biography In Hindi