अमृता प्रीतम की जीवनी, अमृता प्रीतम की बायोग्राफी, अमृता प्रीतम का करियर, अमृता प्रीतम का जन्म, अमृता प्रीतम के उपन्यास, Amrita Pritam Ki Jivani, Amrita Pritam Biography In Hindi, Amrita Pritam Career, Amrita Pritam Birth, Amrita Pritam Novels

अमृता प्रीतम की जीवनी, Biography of Amrita Pritam
अमृता प्रीतम पंजाबी की सबसे प्रसिध्द लेखकों में से एक थी. जो एक भारतीय लेखिका और कवियित्री थी, बता दें कि अमृता पंजाबी और हिंदी दोनों भाषाओं में लिखती थी. उन्हें पंजाब की पहली मुख्य महिला कवियित्री भी माना जाता था और इसके साथ ही वे एक साहित्यकार और निबंधकार भी थी और पंजाबी भाषा की 20 वी सदी की प्रसिद्ध कवियित्री थी. उन्होंने कुल मिलाकर लगभग 100 पुस्तकें लिखी हैं जिनमें उनकी चर्चित आत्मकथा रसीदी टिकट भी शामिल है. अमृता प्रीतम उन साहित्यकारों में थीं जिनकी कृतियों का अनेक भाषाओं में अनुवाद हुआ. अपने अंतिम दिनों में अमृता प्रीतम को भारत का दूसरा सबसे बड़ा सम्मान पद्मविभूषण भी प्राप्त हुआ. उन्हें साहित्य अकादमी पुरस्कार से पहले ही अलंकृत किया जा चुका था.

नाम – अमृता प्रीतम
जन्म – सन् 1919
जन्म स्थान – गुजरांवाला पंजाब
राष्ट्रीयता – भारतीय
व्यवसाय – लेखिका, कवित्री

अमृता प्रीतम का प्रारंभिक जीवन, Early Life of Amrita Pritam
अमृता प्रीतम का जन्म 1919 में गुजरांवाला पंजाब (भारत) में हुआ. बचपन बीता लाहौर में, शिक्षा भी वहीं हुई. किशोरावस्था से लिखना शुरू किया कविता, कहानी और निबंध. प्रकाशित पुस्तकें पचास से अधिक. महत्त्वपूर्ण रचनाएं अनेक देशी विदेशी भाषाओं में अनूदित. 1957 में साहित्य अकादमी पुरस्कार, 1958 में पंजाब सरकार के भाषा विभाग द्वारा पुरस्कृत, 1988 में बल्गारिया वैरोव पुरस्कार (अन्तर्राष्ट्रीय) और 1982 में भारत के सर्वोच्च साहित्त्यिक पुरस्कार ज्ञानपीठ पुरस्कार से सम्मानित. उन्हें अपनी पंजाबी कविता अज्ज आखाँ वारिस शाह नूँ के लिए बहुत प्रसिद्धी प्राप्त हुई. इस कविता में भारत विभाजन के समय पंजाब में हुई भयानक घटनाओं का अत्यंत दुखद वर्णन है और यह भारत और पाकिस्तान दोनों देशों में सराही गयी.

मृता प्रीतम को भारत – पाकिस्तान की बॉर्डर पर दोनों ही तरफ से प्यार मिला. अपने 6 दशको के करियर में उन्होंने कविताओ की 100 से ज्यादा किताबे, जीवनी, निबंध और पंजाबी फोक गीत और आत्मकथाए भी लिखी. उनके लेखो और उनकी कविताओ को बहुत सी भारतीय और विदेशी भाषाओ में भाषांतरित किया गया है. वह अपनी एक प्रसिद्ध कविता, आज आखां वारिस शाह नु के लिए काफी प्रसिद्ध है. यह कविता उन्होंने 18 वी शताब्दी में लिखी थी और इस कविता में उन्होंने भारत विभाजन के समय में अपने गुस्से को कविता के माध्यम से प्रस्तुत किया था. एक नॉवेलिस्ट होने के तौर पे उनका सराहनीय काम पिंजर (1950) में हमें दिखायी देता है. इस नॉवेल पर एक 2003 में एक अवार्ड विनिंग फिल्म पिंजर भी बनायी गयी थी.

जब प्राचीन ब्रिटिश भारत का विभाजन 1947 में आज़ाद भारत राज्य के रूप में किया गया तब विभाजन के बाद वे भारत के लाहौर में आयी. लेकिन इसका असर उनकी प्रसिद्धि पर नही पड़ा, विभाजन के बाद भी पाकिस्तानी लोग उनकी कविताओ को उतना ही पसंद करते थे जितना विभाजन के पहले करते थे. अपने प्रतिद्वंदी मोहन सिंह और शिव कुमार बताल्वी के होने के बावजूद उनकी लोकप्रियता भारत और पाकिस्तान दोनों ही देशो में कम नही हुई.

अमृता प्रीतम का निजी जीवन, Amrita Pritam’s Personal Life
1935 में अमृता का विवाह प्रीतम सिंह से हुआ, जो लाहौर के अनारकली बाज़ार के होजिअरी व्यापारी के बेटे थे. 1960 में अमृता ने उनके पति को छोड़ दिया. और साथ ही उन्होंने कवी साहिर लुधिंवी के प्रति हो रहे उनके आकर्षण को भी बताया. इस प्यार की कहानी उनकी आत्मकथा रसीदी टिकट में भी हमें दिखायी देती है. जब दूसरी महिला गायिका सुधा मल्होत्रा साहिर की जिंदगी में आयी तो अमृता ने अपने लिए दूसरा जीवनसाथी ढूंडना शुरू कर दिया. और उनकी मुलाकात आर्टिस्ट और लेखक इमरोज़ से हुई. उन्होंने अपने जीवन के अंतिम चालीस साल इमरोज़ के साथ ही व्यतीत किये. आपस में बिताया इनका जीवन भी किसी किताब से कम नही और इनके जीवन पर आधारित एक किताब भी लिखी गयी है, अमृता इमरोज़ : ए लव स्टोरी.

अमृता प्रीतम का निधन, Amrita Pritam Dies
अमृता प्रीतम ने लम्बी बीमारी के बाद 31 अक्टूबर, 2005 को अपने प्राण त्यागे. वे 86 साल की थीं और दक्षिणी दिल्ली के हौज़ ख़ास इलाक़े में रहती थीं. अब वे हमारे बीच नहीं हैं, लेकिन उनकी कविताएँ, कहानियाँ, नज़्में और संस्मरण सदैव ही हमारे बीच रहेंगे. अमृता प्रीतम जैसे साहित्यकार रोज़-रोज़ पैदा नहीं होते, उनके जाने से एक युग का अन्त हुआ है. अब वे हमारे बीच नहीं हैं लेकिन उनका साहित्य हमेशा हम सबके बीच में ज़िन्दा रहेगा और हमारा मार्गदर्शन करता रहेगा.

अमृता प्रीतम के सम्मान और पुरस्कार, Amrita Pritam Honors and Awards
अमृता जी को कई राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कारों से भी सम्मानित किया गया, जिनमें प्रमुख हैं 1956 में साहित्य अकादमी पुरस्कार, 1958 में पंजाब सरकार के भाषा विभाग द्वारा पुरस्कार, 1988 में बल्गारिया वैरोव पुरस्कार; (अन्तर्राष्ट्रीय) और 1982 में भारत के सर्वोच्च साहित्यिक पुरस्कार ज्ञानपीठ पुरस्कार. वे पहली महिला थीं जिन्हें साहित्य अकादमी पुरस्कार मिला और साथ ही साथ वे पहली पंजाबी महिला थीं जिन्हें 1969 मेंपद्मश्री सम्मान से सम्मानित किया गया.

1 साहित्य अकादमी पुरस्कार (1956).
2 पद्मश्री (1969).
3 डॉक्टर ऑफ़ लिटरेचर (दिल्ली युनिवर्सिटी- 1973).
4 डॉक्टर ऑफ़ लिटरेचर (जबलपुर युनिवर्सिटी- 1973).
5 बल्गारिया वैरोव पुरस्कार (बुल्गारिया – 1988).
6 भारतीय ज्ञानपीठ पुरस्कार (1982).
7 डॉक्टर ऑफ़ लिटरेचर (विश्व भारती शांतिनिकेतन- 1987).
8 फ़्रांस सरकार द्वारा सम्मान (1987).
9 पद्म विभूषण (2004).

अमृता प्रीतम के उपन्यास, Amrita Pritam’s Novels
1 डॉक्टर देव (१९४९)- (हिन्दी, गुजराती, मलयालम और अंग्रेज़ी में अनूदित)
2 पिंजर (१९५०) – (हिन्दी, उर्दू, गुजराती, मलयालम, मराठी, अंग्रेज़ी और सर्बोकरोट में अनूदित).
3 आह्लणा (१९५२) (हिन्दी, उर्दू और अंग्रेज़ी में अनूदित).
4 आशू (१९५८) – हिन्दी और उर्दू में अनूदित.
5 इक सिनोही (१९५९) हिन्दी और उर्दू में अनूदित.
6 बुलावा (१९६०) हिन्दी और उर्दू में अनूदित.
7 बंद दरवाज़ा (१९६१) हिन्दी, कन्नड़, सिंधी, मराठी और उर्दू में अनूदित.
8 रंग दा पत्ता (१९६३) हिन्दी और उर्दू में अनूदित.
9 इक सी अनीता (१९६४) हिन्दी, अंग्रेज़ी और उर्दू में अनूदित.
10 चक्क नम्बर छत्ती (१९६४) हिन्दी, अंग्रेजी, सिंधी और उर्दू में अनूदित.
11 धरती सागर ते सीपियाँ (१९६५) हिन्दी और उर्दू में अनूदित.
12 दिल्ली दियाँ गलियाँ (१९६८) हिन्दी में अनूदित.
13 एकते एरियल (१९६९) हिन्दी और अंग्रेज़ी में अनूदित.
14 जलावतन (१९७०)- हिन्दी और अंग्रेज़ी में अनूदित.
15 यात्री (१९७१) हिन्दी, कन्नड़, अंग्रेज़ी बांग्ला और सर्बोकरोट में अनूदित.
16 जेबकतरे (१९७१), हिन्दी, उर्दू, अंग्रेज़ी, मलयालम और कन्नड़ में अनूदित.
17 अग दा बूटा (१९७२) हिन्दी, कन्नड़ और अंग्रेज़ी में अनूदित.
18 पक्की हवेली (१९७२) हिन्दी में अनूदित.
19 अग दी लकीर (१९७४) हिन्दी में अनूदित.
20 कच्ची सड़क (१९७५) हिन्दी में अनूदित.
21 कोई नहीं जानदाँ (१९७५) हिन्दी और अंग्रेज़ी में अनूदित.
22 उनहाँ दी कहानी (१९७६) हिन्दी और अंग्रेज़ी में अनूदित.
23 इह सच है (१९७७) हिन्दी, बुल्गारियन और अंग्रेज़ी में अनूदित.
24 दूसरी मंज़िल (१९७७) हिन्दी और अंग्रेज़ी में अनूदित.
25 तेहरवाँ सूरज (१९७८) हिन्दी, उर्दू और अंग्रेज़ी में अनूदित.
26 उनींजा दिन (१९७९) हिन्दी और अंग्रेज़ी में अनूदित.
27 कोरे कागज़ (१९८२) हिन्दी में अनूदित.
28 हरदत्त दा ज़िंदगीनामा (१९८२) हिन्दी और अंग्रेज़ी में अनूदित.

अमृता प्रीतम की प्रमुख कृतियाँ, Major Works by Amrita Pritam
1 उपन्यास : पाँच बरस लंबी सड़क, पिंजर, अदालत,कोरे कागज़, उन्चास दिन, सागर और सीपियाँ, नागमणि, रंग का पत्ता, दिल्ली की गलियाँ, तेरहवां सूरज.
2 आत्मकथा : रसीदी टिकट.
3 कहानी संग्रह : कहानियाँ जो कहानियाँ नहीं हैं, कहानियों के आंगन में.
4 संस्मरण : कच्चा आँगन, एक थी सारा.
5 कविता संग्रह : चुनी हुई कविताएँ.

अमृता प्रीतम की जीवनी, अमृता प्रीतम की बायोग्राफी, अमृता प्रीतम का करियर, अमृता प्रीतम का जन्म, अमृता प्रीतम के उपन्यास, Amrita Pritam Ki Jivani, Amrita Pritam Biography In Hindi, Amrita Pritam Career, Amrita Pritam Birth, Amrita Pritam Novels

ये भी पढ़े –

विवेकानंद की जीवनी, स्वामी विवेकानंद का जीवन परिचय, स्वामी विवेकानंद की बायोग्राफी, Swami Vivekananda In Hindi, Swami Vivekananda Ki Jivani

शहीदे आज़म भगत सिंह की जीवनी, शहीद भगत सिंह की बायोग्राफी हिंदी में, भगत सिंह का इतिहास, भगत सिंह का जीवन परिचय, Shaheed Bhagat Singh Ki Jivani

महात्मा गांधी की जीवनी, महात्मा गांधी का जीवन परिचय, महात्मा गांधी की बायोग्राफी, महात्मा गांधी के बारे में, Mahatma Gandhi Ki Jivani

डॉ. भीम राव अम्बेडकर की जीवनी, डॉ. भीम राव अम्बेडकर का जीवन परिचय हिंदी में, डॉ. भीमराव अम्बेडकर के अनमोल विचार, Dr. B.R. Ambedkar Biography In Hindi

सुभाष चन्द्र बोस की जीवनी, सुभाष चंद्र बोस की जीवनी कहानी , नेताजी सुभाष चन्द्र बोस बायोग्राफी, सुभाष चन्द्र बोस का राजनीतिक जीवन, आजाद हिंद फौज का गठन

महादेवी वर्मा की जीवनी , महादेवी वर्मा की बायोग्राफी, महादेवी वर्मा की शिक्षा, महादेवी वर्मा का विवाह, Mahadevi Verma Ki Jivani

तानसेन की जीवनी , तानसेन की बायोग्राफी, तानसेन का करियर, तानसेन का विवाह, तानसेन की शिक्षा, Tansen Ki Jivani, Tansen Biography In Hindi

वॉरेन बफे की जीवनी, वॉरेन बफे की बायोग्राफी, वॉरेन बफे का करियर, वॉरेन बफे की पुस्तकें, वॉरेन बफे के निवेश नियम, Warren Buffet Ki Jivani, Warren Buffet Biography In Hindi

हरिवंश राय बच्चन की जीवनी, हरिवंश राय बच्चन की बायोग्राफी, हरिवंश राय बच्चन की कविताएं, हरिवंश राय बच्चन की रचनाएं, Harivansh Rai Bachchan Ki Jivani

रामधारी सिंह दिनकर की जीवनी , रामधारी सिंह दिनकर की बायोग्राफी, रामधारी सिंह दिनकर के पुरस्कार, रामधारी सिंह दिनकर की रचनाएं, Ramdhari Singh Dinkar Ki Jivani

मन्नू भंडारी की जीवनी, मन्नू भंडारी की बायोग्राफी, मन्नू भंडारी का करियर, मन्नू भंडारी की कृतियां, Mannu Bhandari Ki Jivani, Mannu Bhandari Biography In Hindi

अरविन्द घोष की जीवनी, अरविन्द घोष की बायोग्राफी, अरविन्द घोष का करियर, अरविन्द घोष की मृत्यु, Arvind Ghosh Ki Jivani, Arvind Ghosh Biography In Hindi

सम्राट अशोक की जीवनी, सम्राट अशोक की बायोग्राफी, सम्राट अशोक का शासनकाल, सम्राट अशोक की मृत्यु, Ashoka Samrat Ki Jivani, Ashoka Samrat Biography In Hindi

मिल्खा सिंह की जीवनी, मिल्खा सिंह की बायोग्राफी, मिल्खा सिंह का करियर, मिल्खा सिंह का विवाह, मिल्खा सिंह के पुरस्कार, Milkha Singh Ki Jivani, Milkha Singh Biography In Hindi

अटल बिहारी वाजपेयी की जीवनी, अटल बिहारी वाजपेयी की रचनाएं, अटल बिहारी वाजपेयी की कविताएं, Atal Bihari Vajpayee, Atal Bihari Vajpayee Biography In Hindi